कैश लूट मामले में गैंग की हुई पहचान पर 24 घंटे बाद भी नहीं मिली कामयाबी

पटना/अमित जायसवाल : राजधानी में बुधवार की सुबह हुए 6.86 लाख रुपए कैश लूट मामले में पटना पुलिस को अब तक कोई कामयाबी नहीं मिली है. वारदात को हुए 24 घंटे से अधिक बीत गए हैं. लेकिन वारदात को अंजाम देने वाले अपराधी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं. हालांकि पुलिस सोर्स के जरिए जो जानकारी मिली है, उसके अनुसार कैश लूटने वाले अपराधियों के गैंग की पहचान कर ली गई है.

अपराधियों को पकड़ने के लिए ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही है. एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा के निर्देश पर सिटी एसपी ईस्ट जितेंद्र कुमार की अगुवाई में एक स्पेशल टीम बनाई गई है. वारदात के बाद से यही टीम लगातार अपराधियों को पहचानने और उन्हें गिरफ्तार करने में जुटी हुई है.



रामकृष्णा नगर के यूनियन बैंक ब्रांच और आसपास में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को भी जांच कर रही पुलिस टीम ने खंगाला है. इसी बैंक में बुधवार की सुबह जीरो माइल के पास स्थित सोनाली पेट्रोल पंप के मैनेजर मुन्ना राय बैग में 6.86 लाख रुपए लेकर दूसरे स्टाफ के साथ बाइक से निकले थे. बैंक से चंद कदम पहले ही बाइक सवार अपराधियों ने ओवर टेक करके घेर लिया. अपराधियों के बीच से मैनेजर रुपए लेकर बैंक की तरफ भागा ही था कि पीछे से अपराधियों ने गोली चला दी. गोली लगते ही मैनेजर रोड पर गिर गया. उसके पास से कैश वाले बैग को अपरधियों ने झपट लिया और फिर फरार हो गए. सुबह 10 बजे के बाद हुए इस वारदात ने सबको हैरान कर दिया है.