दानापुर हादसा: इस कारण बेपटरी हो गई थी जनसाधारण एक्सप्रेस

फुलवारी शरीफ (खगौल): दानापुर स्टेशन यार्ड में रविवार को 13257 जनसाधारण एक्सप्रेस के बेपटरी हो गई थी. किस वजह से ट्रेन बेपटरी हुई थी इसका पता लग चूका है. इसकी मुख्य वजह इंटरलॉकिंग सिस्टम के फेल हो जाने की बताई जा रही हैं. वर्तमान में दानापुर रेलमंडल में ट्रेनों की परिचालनन पद्धति काफी पुरानी है जिसे अपग्रेड करने की जरूरत है. दानापुर रेलवे से मिली जानकारी के मुताबिक कल जन साधारण के बेपटरी हो जाने की जांच में यह बात सामने आयी है कि दूर्घटना की प्रथम दृष्टया यांत्रिकी इन्टरलाकिंग (Mechanical Interlocking failure) की असफलता  पाई गई है.

विदित हो कि दानापुर यार्ड का परिचालन पद्धति काफी पुरानी हो चूकी है तथा समय के साथ दानापुर स्टेशन पर गाड़ियों में असाधारण वृद्धि के मद्देनजर आवश्यकता के अनुरूप परम्परागत यांत्रिकी इन्टरलाकिंग (Mechanical Interlocking ) की जगह रूट-रिले-सिस्टम (RRI) के द्वारा गाड़ियों के परिचालन की आवश्यकता हो गई हैं.

दानापुर स्टेशन के रूट-रिले-सिस्टम (RRI)  के लिए वित्तीय वर्ष 2000-01 में ही 5 करोड़ रूपये की स्वीकृति मिली थी, परन्तु पिछले 17 वर्षों में कार्य में कोई प्रगति नहीं हुई.  फिर 17 वर्ष के बाद पिछले वित्तीय वर्ष 2017-2018 में इसका पुनर्मुल्यांकन कर रूपये 40 करोङ की स्वीकृति प्राप्त की गई है तथा रूट-रिले-सिस्टम (RRI) हेतु जरुरी जमीनी स्तर का कार्य लगातार प्रगति पर है.  दानापुर स्टेशन के रूट-रिले-सिस्टम का कार्य मार्च’ 2019 तक पूरा करने हेतु मंडल प्रतिबद्ध है जिसे हर-हाल में पूरा किया जायेगा.  जिससे गाड़ियों के सुगम परिचालन के साथ-साथ संरक्षा में भी अप्रत्यशित वृद्धि होगी.

दानापुर मंडल के 89 स्टेशनों में से 80 स्टेशनों पर रूट-रिले-इन्टरलाकिंग/पैनल इन्टरलाकिंग का कार्य किया जा चुका है. शेष बचे 9 स्टेशनों का कार्य प्रक्रियाधीन है.  जिसमे दानापुर एवं किउल स्टेशनों के कार्य को प्रमुखता के साथ-साथ अन्य स्टेशनों का कार्य भी जल्द पुरा कर लिये जाने की संभावना है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*