बिहार में इस ट्रेंड से बढ़ी पुलिस की मुश्किलें…PHQ ने जारी किया अलर्ट

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में इन दिनों हत्या के बाद पीड़ित परिवार के द्वारा डेड बॉडी का विरोधी के घर के सामने ही अंतिम संस्कार कर देना एक ट्रेंड सा बन गया है. इस ट्रेंड के बढ़ते मामले को लेकर पुलिस मुख्यालय काफी चिंतित और सतर्क हो गया है. सभी जिले के एसपी और एसएसपी को अलर्ट किया गया है कि किसी भी आपराधिक वारदात के बाद अलर्ट रहा जाए, ताकि आपसी विवाद या दंगे जैसी स्थिति उत्पन्न ना हो सके.

पुलिस मुख्यालय ने हाल के दिनों में हुई दोनों वारदात को लेकर कहा कि अभी स्थिति शांतिपूर्ण है. पुलिस इन दोनों स्थानों पर कैंप कर रही है, ताकि स्थिति तनावपूर्ण ना हो सके. दोषी व्यक्ति को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश भी दिए गए हैं.  एडीजी जितेंद्र कुमार ने कहा कि आम जनता से भी अपील की जा रही है कि किसी के बहकावे में या भावेश में आकर इस तरह की घटना को अंजाम ना दें. इससे विवाद की स्थिति उत्पन्न हो सकती है. पुलिस के जांच और अनुसंधान पर भरोसा रखें. अभियुक्त को त्वरित कार्रवाई कर सजा दिलवाई जाएगी.

आपको बता दे कि कुछ दिनों पहले मुजफ्फरपुर के रामपुर शहर इलाके में प्रेमिका से मिलने पहुंचे प्रेमी को बुरी तरीके से पिटाई के बाद गुप्तांग काट दिए जाने के बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी. मौत के बाद आक्रोशित परिजनों ने पोस्टमार्टम के बाद शव को सीधे प्रेमिका के घर ले जाकर पुलिस की मौजूदगी में उनके दरवाजे पर अंतिम संस्कार कर दिया था, जिसके बाद इलाके में तनाव पूर्ण स्थिति उत्पन्न हो गई थी.