गांधी मैदान ही नहीं, बल्कि पूरे शहर में ​दिखी टाइट सिक्योरिटी

पटना : दुर्गा पूजा और मुहर्रम को लेकर पटना पुलिस ने जो टाइट सिक्योरिटी अरेंजमेंट्स करने का दावा किया था, अब तक पुलिस टीम अपने दावे पर खरी उतरते दिख रही है. सप्तमी के दिन पूजा पंडालों में माता का पट खुलने से लेकर महानवमी रात तक सब कुछ शांति पूर्वक निपट गया. शहर के अंदर या फिर पटना जिले में कोई बड़ी वारदात सामने नहीं आई.

रावण वध समारोह को लेकर भी पटना पुलिस ने बड़े लेवल पर अपनी तैयारियों को अंजाम दिया है. गांधी मैदान ही नहीं, बल्कि पूरे शहर में सिक्योरिटी सिस्टम टाइट दिखा. रावण वध समारोह देखने आने वाले पब्लिक के लिए दोपहर करीब एक बजे से इंट्री शुरू कर दी गई थी. गांधी मैदान के इंट्री वाले हर एक गेट पर पब्लिक को पुलिस की कड़ी चेकिंग से हो कर गुजरना पड़ा. हर गेट पर मेटल डिटेक्टर लगा था. इससे होकर ही महिलाओं और पुरूषों को अंदर जाने दिया गया.

हर गेट पर एक पुलिस पदाधिकारी के साथ प्रर्याप्त संख्या में फोर्स को लगाया गया था. गांधी मैदान के अंदर भी काफी संख्या में पुलिस फोर्स मौजूद थी. इसके अलावे मैदान के अंदर बनाए गए वॉच टॉवर से हर तरफ कड़ी नजर रखी जा रही थी. पब्लिक एड्रेस सिस्टम के जरिए भीड़ को रेगुलेट किया जा रहा था. गांधी मैदान की ओर जाने वाले हर रूट पर पहले ही पुलिस टीम ने पाबंदी लगा रखी थी. किसी भी प्रकार के वाहनों के आने—जाने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई थी.

हर प्वाइंट पर वॉकी टॉकी से लैश पुलिस पदाधिकारी और जवान मौजूद थे. सिर्फ पैदल ही पब्लिक को गांधी मैदान की ओर जाने दिया जा रहा था. लोक थाने के साथ पटना पुलिस की डॉल्फिन मोबाइल भी लगातार अलग—अलग इलाकों में पेट्रोलिंग करते हुए दिखी. जबकि एसएसपी मनु महाराज और उनकी टीम लगातार गांधी मैदान के अंदर और बाहर सिक्योरिटी अरेंजमेंट्स कर जायजा लेते दिखे.

यह भी पढ़ें-
सत्यपाल मलिक बनाए गए बिहार के नए गवर्नर, गंगा बाबू को मेघालय का जिम्मा
मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*