दीघा एम्स के दोनों मार्ग पर दौड़ेगी गाड़ियां, रोटरी से गंगा पथ को भी जोड़ा जाएगा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: एम्स-दीघा एलिवेटेड पथ और अशोकराज पथ से जेपी सेतु रोटरी के द्वारा अब जाया जा सकता है। इस रोटरी का निर्माण एम्स-दीघा एलिवेटेड पथ का भाग है, जिसके द्वारा न हीं सिर्फ जेपी सेतु बल्कि गंगा पथ और अटल पथ से भी सम्पर्कता स्थापित होगी। पहले जेपी सेतु से पटना के तरफ आने और जाने के लिए एक ही मार्ग का प्रयोग किया जा रहा था। रोटरी के निर्माण पूर्ण होने से अब जेपी सेतु से आने एवं जाने के लिए दो लेन का मार्ग होगा। वाहनों को दो लेन सड़क मिलेगी।

बताते चलें कि निर्माधीन रोटरी से गंगा पथ को भी जोड़ा जायेगा तथा अटल पथ से भी जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। इस रोटरी के निर्माण से निर्बाध यातायात व्यवस्था सुचारू ढंग से चलेगी और भविष्य में जेपी सेतु के समानान्तर गंगा पर प्रस्तावित पुल से भी यह जुटेगा।इस रोटरी के निर्माण के समय ध्यान रखा गया था कि अशोक राजपथ पर यातायात व्यवस्था पर कोई असर न हो तथा जो यातायात एम्स-दीघा से जेपी सेतु के बीच है, उसे अशोक राजपथ की यातायात से अलग रखा जाये। यातायात जाम से मुक्त रखा जा सके।

पंकज कुमार, प्रबंध निदेशक, बिहार राज्य पथ विकास निगम ने बताया कि शुरू में रोटरी निर्माण में अनेक बाधायें आयी जैसे कि भूमि अधिग्रहण एवं मिट्टी की उपलब्धता, जिसे समय रहते हल किया गया। भूमि अधिग्रहण के लिये उन्होंने जिला प्रशासन का आभार जताया और उन्होंने कहा कि यह रोटरी गंगा के तट पर निर्माणाधीन है, इसलिए तटबंध बचाव के संबंध में कार्य जोरों पर है।

उन्होंने बताया कि एम्स-दीघा एलिवेटेड परियोजना के समय ही रोटरी निर्माण पर निर्णय लिया जा चुका था, क्योंकि परियोजना के पूर्ण होते हीं भारी संख्या में वाहनों का दबाव बढ़ जाने की स्थिति में रोटरी का निर्माण कर सुगम यातायात की व्यवस्था को सुनिश्चिित किया जा सके। यह भी बताया गया कि रोटरी के सौंदर्यीकरण का कार्य चल रहा है तथा पटना वासियों के लिए रोटरी का सौंदर्य एक सौगात होगी।