बांका में दो शराब तस्करों को कोर्ट ने दी 10 साल की सजा, स्पीडी ट्रायल के तहत हुई कार्रवाई

CHANDAN-KUSHWAHA
बांका एसपी चंदन कुशवाहा

लाइव सिटीज, बांका : स्पीडी ट्रायल के तहत बांका कोर्ट ने शनिवार को एक बड़ा फैसला सुनाया है. शराब तस्करी के मामले में पकड़े गए दो लोगों को 10 साल कैद की सजा सुनाई गई है. इसके साथ ही दोनों तस्करों पर एक—एक लाख रुपए का जुर्माना भी कोर्ट ने लगाया है. शराब तस्करों के खिलाफ ये कड़ा फैसला एडीजे सेकेंड आलोक कुमार ने सुनाया है.

जिन दो शराब तस्करों के सजा दी गई है, उनमें मदन कापड़ी और संजीव मांझी शामिल हैं. इस केस में अभियोजन की तरफ से विशेष लोक अभियोजक अभिषेक कुमार और विपक्ष की ओर से एडवोकेट आनंद देव चौधरी व स्वरूप झा ने बहस की. कोर्ट में दोनों पक्षों ने जज के सामने अपना—अपना पक्ष रखा. दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद ही कोर्ट ने अपना फैसला दिया.

दरअसल, शराब तस्करी का ये मामला अप्रैल 2017 का है. बांका थाने के थानेदार सूर्यनाथ सिंह ने गुप्त सूचना के आधार पर मदन कापड़ी और संजीव मांझी को 540 बोतल विदेशी शराब के साथ पकड़ा था. बांका जिले के एसपी बनने के बाद से ही चंदन कुशवाहा शराब तस्करी से जुड़े मामलों को स्पीडी ट्रायल के तहत लाने की कोशिश में लगे थे. ताकि तस्करों को जल्द और सख्त सजा मिल सके. अपने इस प्रयास में एसपी चंदन कुशवाहा को सफलता भी मिली.

स्पीडी ट्रायल के तहत शराब तस्करी के इस मामले को चलाया गया. सुनवाई पूरी कर महज 8 महीने में ही कोर्ट ने तस्करों को सजा भी दे दी. अगर इस तरह से कार्रवाई होने लगे तो बिहार के अंदर पूर्ण बंदी होने के बाद भी हो रहे शराब की तस्करी पर रोक लग सकेगी.

शराबबंदी पर कोर्ट की दूसरी मुहर, यह सफलता भी बांका SP चंदन कुशवाहा के नाम

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*