पटना की अपर नगर आयुक्त ASP शीला ईरानी के घर दोहरी ख़ुशी, दो भाई BPSC क्रैक कर बने DSP

sheela-collage
बाएं से राकेश कुमार रंजन, बीच में ASP शीला ईरानी और सबसे दाएं अनिल कुमार

लाइव सिटीज, अमित जायसवाल के साथ : बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन (BPSC) ने आज शनिवार 18 अगस्त को 56-59 सम्मिलित संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा का अंतिम रिजल्ट प्रकाशित कर दिया है. इस रिजल्ट में इंटरव्यू के लिए बुलाये गए कुल 1914 उम्मीदवारों की लिस्ट में से कुल 736 उम्मीदवारों को सफल घोषित किया गया है. रिजल्ट के प्रकाशन के बाद सबसे ज्यादा खुशी पटना नगर निगम की वर्तमान अपर नगर आयुक्त ASP शीला ईरानी के घर में आई है. ASP शीला ईरानी के दो भाइयों ने BPSC में सफलता पाई है. उनकी नियुक्ति DSP के पद पर होगी।

DSP के पद पर नियुक्त होने वाले शीला ईरानी के दोनों भाई हैं, राकेश कुमार रंजन और अनिल कुमार। राकेश कुमार रंजन ASP शीला ईरानी के अपने सगे भाई हैं तो अनिल कुमार कजिन हैं. लाइव सिटीज ने दोनों से बातचीत कर उनकी सफलता के बारे में जाना है.

BPSC 56th-59th का फाइनल रिजल्ट घोषित, संजीव कुमार सज्जन बने टॉपर

राकेश कुमार रंजन ने लाइव सिटीज को बताया है कि वे काफी समय से BPSC की तैयारी कर रहे थे. खेलकूद में उनका इंट्रेस्ट था. उनकी दीदी ASP शीला ईरानी पुलिस में हैं. उनके पिता लाल बहादुर भी रिटायर्ड जॉइंट लेबर कमिश्नर रह चुके हैं. इस वजह से उनके पिता ने कहा था कि तुम्हारे लिए पुलिस की नौकरी ही सही है.

RAKESH-DSP
राकेश कुमार रंजन (फाइल फोटो)

राकेश ने जेएनयू से इंटरनेशनल स्टडीज में पीएचडी की है. इसके बाद वे इंटरनेशनल एजुकेशन के फील्ड में काम करने वाली एक संस्था में जॉब कर रहे थे. जॉब करते हुए ही वे BPSC की तैयारी कर रहे थे. BPSC द्वारा जारी रिजल्ट में उन्हें DSP केटेगरी में 11वां स्थान मिला है, जबकि ओवरऑल रिजल्ट में उनका रैंक 42वां है. बता दें कि ASP शीला ईरानी का परिवार मूल रूप से मुजफ्फरपुर का रहने वाला है.

ईरानी के कजिन अनिल कुमार का भी सेलेक्शन BPSC में हुआ है. अनिल कुमार को BPSC में DSP रैंक में सातवां स्थान मिला है, जबकि ओवरऑल उनकी रैंकिंग 24 है. अनिल कुमार ने लाइव सिटीज को बताया है कि पिछले चार-पांच सालों से वे BPSC की तैयारी कर रहे थे. फिलहाल वे बेंगलुरु में जेनटेक नाम की एक बीपीओ कंपनी में जॉब भी कर रहे हैं. उन्होंने 2010 में जेएनयू से फ्रेंच लैंग्वेज में ग्रेजुएशन की है.

ANIL-DSP
अनिल कुमार (फाइल फोटो)

अनिल ने बताया कि शुरू से ही उनका इंटरेस्ट पुलिस सर्विस में था. अनिल मूल रूप से छपरा के दाल गली के रहने वाले हैं. उनके पिता स्वर्गीय सुग्रीव दास रेलवे में क्लर्क थे.

मालूम हो कि BPSC ने आज शनिवार की शाम 56 से 59वीं परीक्षा का फाइनल रिजल्ट जारी किया है. उसमें संजीव कुमार सज्जन को पहला रैंक मिला है, जबकि शाकंभरी चंदन को दूसरा और अमित कुमार को तीसरा स्थान मिला है. यहां क्लिक कर देखें रिजल्ट की पूरी लिस्ट.

About Anjani Pandey 690 Articles
I write on Politics, Crime and everything else.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*