पटना DM का निर्देश : असुरक्षित भवनों में चल रहे कोचिंग संस्थानों की जांच करेंगे अधिकारी

लाइव सिटीज, पटना : राजधानी पटना में कोचिंग संचालकों पर जिला प्रशासन फिर से सख्त रुख दिखाने जा रहा है. इसको लेकर एक महत्वपूर्ण मीटिंग आज शनिवार को जिलाधिकारी कुमार रवि ने की है. बैठक में जिलाधिकारी ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया कि सभी कोचिंग संस्थान के संचालकों से शपथ पत्र प्राप्त कर लें. कोचिंग संस्थान के संचालक शपथ पत्र देंगे कि उन्होंने कोचिंग संस्थान के रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन दिया है. हमारा कोचिंग संस्थान मानक सुरक्षा व्यवस्था के अनुकूल है तथा सभी शर्तों के अनुरूप है. बाद में जांच के क्रम में अगर त्रुटि पायी जाती है, तो सुसंगत धाराओं के तहत कानूनी कार्रवाई की जा सकती है.

जिलाधिकारी ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को यह भी निर्देश दिया कि सभी कोचिंग संस्थान के संचालकों से अग्नि सुरक्षा संबंधित अनापत्ति प्रमाण-पत्र (NOC) जिला अग्नि शमन कार्यालय से प्राप्त कर लें कि अग्नि सुरक्षा हेतु मानक सुरक्षा उपलब्ध है. कोचिंग संस्थान से प्राप्त अग्नि सुरक्षा संबंधी अनापत्ति प्रमाण-पत्र शपथ पत्र के साथ संलग्न कर लें. शपथ पत्र एवं अग्नि सुरक्षा संबंधित अनापत्ति प्रमाण-पत्र प्राप्त होने पर जब तक कोचिंग संस्थानों का जांच दंडाधिकारी एवं अग्निशमन पदाधिकारी के द्वारा नहीं हो जाता है, तब तक कोचिंग संस्थान का संचालन यथावत रहेगा, ताकि छात्रों के प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी बाधित न हो.

पटना के सभी स्कूल 24 जून को खुल जाएंगे, डीएम ने दिया आदेश

साथ ही सभी अनुमंडल पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि अपने-अपने क्षेत्रांतर्गत चल रहे सभी कोचिंग संस्थानों की जांच की जाये. जिन संस्थानों में छात्र-छात्राओं के लिए उपलब्ध बुनियादी सुविधायें, अग्नि सुरक्षा हेतु उपलब्ध मानक सुरक्षा व्यवस्था, बहुमंजली इमारत की सुरक्षा की स्थिति में सीढ़ी की समुचित चौड़ाई लिफ्ट आदि की व्यवस्था पर्याप्त है या नहीं. अगर पर्याप्त नहीं है, तो उनके विरूद्ध धारा-133 के तहत नोटिस निर्गत कर कार्रवाई की जाये.

बैठक में जिलाधिकारी कुमार रवि के साथ अपर जिला दंडाधिकारी निर्मल कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी, पटना सदर कुमारी अनुपम सिंह, जिला शिक्षा पदाधिकारी ज्योति कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी, पटना सिटी राजेश रौशन एवं संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*