मुजफ्फरपुर आंख कांड के पीड़ित समाहरणालय मुख्यालय पर मुआवजे की मांग को लेकर धरना देने पहुंचे

लाइव सिटीज अभिषेक मुजफ्फरपुर: जिले के चर्चित आंख कांड के पीड़ित आज समाहरणालय मुख्यालय पर मुआवजा की मांग को लेकर धरना देने पहुंचे. ये लोग शिवहर, वैशाली, मोतिहारी और मुजफ्फरपुर जिले से आये हुए थे. समाहरणालय आकर DM को ज्ञापन सौंपा.

पिछले वर्ष 22 नवंबर को मुजफ्फरपुर के आई हॉस्पिटल में 65 लोगों के आंख का ऑपरेशन हुआ था जिसमें 16 लोगों की आंख निकालनी पड़ी थी. उसी आंख कांड के पीड़ित को आंख चली जाने से जीवन और गृहस्थी दोनों चलाना मुश्किल हो गया है जिसको लेकर जिला मुख्यालय पर धरना देने आए हुए थे.

कौशल्या देवी ने बताया कि आंख ही निकाल दिया अब क्या करे. जीवन चलना मुश्किल हो गया है. शत्रोहन महतो ने बताया कि ट्रैक्टर चलाते थे अब तो जीवन चलना मुश्किल हो गया. भरत प्रशाद शिवहर से आये हुए थे जिन्होंने बताया कि आंख निकाल दी गयी आजतक मुआवजा नहीं मिला. राम मूर्ति सिंह ने बताया कि एक आंख निकाल दी गयी, दूसरी से भी कम ही दिखता है काफी दिक्कत है.
मुआवजा मिलना चाहिए.

हरेंद्र रजक महुआ वैशाली से आये हुए थे. मीणा देवी प्रमिला देवी, प्रेमा देवी सभी ने बताया कि सरकार के द्वारा आश्वाशन दिया गया था लेकिन मुआवजा की कोई घोषणा नही हुई न मिला. मुजफ्फरपुर के सांसद अजय निषाद ने आंख कांड के पीड़ितों को मुआवजा देने की मांग की है.