हम साथ-साथ नहीं हैं, तेज प्रताप और ऐश्वर्या इस दिन होंगे आमने-सामने, शाही शादी आखिरी दौर में पहुंची

लाइव सिटीज पटना: आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव और उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय का मामला अब आखिरी दौर में पहुंच गया है. गुरुवार को तेज प्रताप-ऐश्वर्या तलाक मामले में पटना हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. हालांकि कोर्ट में तेज प्रताप उपस्थित नहीं हुए. ऐश्वर्या के वकील आज ही उन्हें कोर्ट में लाने को तैयार थे. लेकिन तेज प्रताप के वकील ने इसके लिए समय मांगा. जिसके बाद कोर्ट ने 28 जून की तारीख काउंसिलिंग के लिए तय की. इस दिन कोर्ट दोनों को आमने-सामने करते हुए पूछेगा कि साथ रहना चाहते हैं या अलग.

दरअसल तेज प्रताप-ऐश्वर्या तलाक मामले की सुनवाई डिवीजन बेंच में जस्टिस आशुतोष कुमार और जस्टिस जितेन्द्र कुमार के कोर्ट में हुई. अब 28 जून को दोनों काउंसिलिंग के लिए कोर्ट आएंगे. काउंसिलिंग के समय कोर्ट दोनों को आमने-सामने करते हुए पूछेगा कि क्या आप दोनों साथ रहना चाहते हैं या अलग-अलग. फिर काउंसिलिंग के बाद सेटलमेंट किया जाएगा. वहीं ऐश्वर्या राय का कहना है कि तेजप्रताप की कमाई का आकलन सही तरह से नहीं किया गया है. इसको सही तरह से किया जाए. उनके वकील ने पिछली सुनवाई में ऐश्वर्या को 23 हजार रुपए से ज्यादा गुजारा भत्ता देने की बात कही थी.

बता दें कि तेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की शादी 12 मई 2018 को बड़े धूमधाम से हुई थी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत कई बड़े नेता तेज प्रताप की शादी में शामिल हुए थे और वर-वधू को आशीर्वाद दिया था. हालांकि यह रिश्ता ज्यादा दिन नहीं चल सका और शादी के कुछ महीने बाद ही तेज प्रताप ने अचानक पटना के फैमिली कोर्ट में तलाक लेने संबंधी आवेदन फाइल कर दिया था. जिसके बाद सभी हैरान रह गए थे. वहीं ऐश्वर्या ने मीडिया के सामने आकर रोते-बिलखते हुए लालू परिवार पर गंभीर आरोप लगाए थे. यहां तक कि उन्होंने राबड़ी देवी, मीसा भारती और तेज प्रताप के खिलाफ घरेलू हिंसा का केस दर्ज कराया था.