पटना: एम्स से 20 मिनट और जेपी सेतु से 10 मिनट में PMCH पहुंच जाएंगे, CM नीतीश ने जेपी गंगा पथ जनता को किया समर्पित

लाइव सिटीज पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटनावासियों को एक और बड़ी सौगात दी है. सीएम नीतीश ने शुक्रवार की शाम एक साथ तीन बड़ी परियोजनाओं का उद्घाटन किया. मुख्यमंत्री ने पहले अटल पथ फेज-2 (दीघा से जेपी गंगा पथ तक), जेपी गंगा पथ के पहले चरण और फिर मीठापुर आरओबी का उद्घाटन किया. इस मौके पर पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन, सांसद रविशंकर प्रसाद समेत कई नेता और अधिकारी मौजूद रहे. पटना गंगा पथ के लोकार्पण पर सीएम ने कहा कि अब पटना एम्स और पीएमसीएच जुड़ गया है.

पटना गंगा पथ के उद्घाटन पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि हमको पूरा भरोसा है यह काम जल्द पूरा हो जाएगा. यहां का दृश्य बेहद सुंदर लगता है. अब पटना एम्स और पीएमसीएच जुड़ गया है. सीएम ने कहा कि हम पटना सिटी में खुदाई करेंगे ताकि लोग उसे देखने आएं, लोग याद रखेंगे की पाटलिपुत्र कैसे राजधानी बनी. वहीं पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि पटना में गंगा पथ का निर्माण का सपना पूरा होने से मरीन ड्राइव भी हो सकता है. सांसद रविशंकर प्रसाद ने सीएम नीतीश की प्रशंसा करते हुए कहा कि नीतीश कुमार देश के सबसे बेहतर मुख्यमंत्रियों में से एक हैं.

बता दें कि 3831 करोड़ की लागत से जेपी गंगा पथ का निर्माण हो रहा है. दीघा से पीएमसीएच तक निर्माण कार्य पूरा हो गया है. अटल पथ फेज 2 का भी लोकार्पण किया गया. जिसका 69.55 करोड़ की लागत से निर्माण हुआ है. गंगा पथ के चालू हो जाने के बाद पटना के लोगों को बड़ी राहत मिली है. अब एम्स से 20 मिनट और जेपी सेतु से 10 मिनट में पीएमसीएच पहुंच सकते हैं. एम्स से दीघा की दूरी 20 किलोमीटर है. जेपी सेतु से पीएमसीएच तक की दूरी 7.5 किलोमीटर है. चार लेन वाले गंगा पथ पर शहर की ओर वाले दो लेन से ही पीएमसीएच तक आना-जाना होगा. हालांकि इस लेन का इस्तेमाल सिर्फ मरीज और उनके परिजन ही कर सकते हैं. आम लोग एएन सिन्हा इस्टिट्यूट तक ही जा सकते हैं.

जेपी गंगा पथ को अटल पथ, एएन सिन्हा इंस्टीट्यूट और पीएमसीएच से जोड़ा गया है. इस पथ के शुरू होने से पटनावासियों का खूबसूरत नजारों और गंगा की लहरों के बीच रोमांच के साथ सफर करने का सपना पूरा होगा. साथ ही लोगों को एक जगह से दूसरे जगह में आसानी होगी और जाम से भी मुक्ति मिलेगी. गंगा पथ पर 8 जगहों पर संपर्क पथ का निर्माण किया गया है. पहले फेज में एलसीटी घाट, एएन सिन्हा इंस्टिट्यूट और पीएमसीएच से दीघा दीदारगंज एलिवेटेड रोड का संपर्क पथ जुड़ेगा. वहीं इसके बन जाने से दानापुर से गांधी मैदान के मार्ग पर वाहनों का दबाव कम हो जाएगा. जिससे शहरवासी कम समय में ज्यादा दूरी तय कर पाएंगे.

बता दें कि जेपी गंगा पथ का निर्माण सितंबर 2013 में शुरू हुआ था. हालांकि कोरोना की वजह से इसको बनने में ज्यादा समय लगा है. बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड के अधिकारियों के मुताबिक जयप्रकाश गंगा पथ की कुल लंबाई 20.5 किलोमीटर होगी. वहीं इस पथ के निर्माण पर कुल 3831 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जा रही है. अटल पथ फेज 2 का भी लोकार्पण किया गया. जिसका 69.55 करोड़ की लागत से निर्माण हुआ है. वहीं 23 करोड़ रुपये से मीठापुर आरओबी के मीठापुर लेग का निर्माण हुआ है.