ज्ञानोदय गुरुकुल में सैद्धांतिक व प्रायोगिक वर्कशॉप पॉलेक्स-T III का समापन, विजेता हुए पुरस्कृत

सेर्टिफिकेट वितरण के बाद समूह फोटो लेने व राष्ट्रगान के बाद वर्कशॉप का समापन हुआ

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: आईएपीटी- एपीएचओ सेल दिल्ली के  तत्वावधान में ज्ञानोदय गुरुकुल स्कूल के प्रांगण में प्रायोगिक कौशल व सैद्धांतिक विज्ञान के क्षेत्र में व प्रतिभा संवर्द्धन के उद्देश्य से दो दिवसीय (16-17 जनवरी 2019 ) POLLEX-T III  वर्कशॉप का समापन हुआ.

आज के कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि आईआईटी कानपुर के पूर्व प्राध्यापक व सम्प्रति में मुम्बई के सेंटर फॉर एक्सेलेन्स इन बेसिक साइंसेस में राजा रामन्ना फेलो के पद पर कार्यरत व आईएपीटी के वर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष विशिष्ठ अतिथि व बिहारी मिट्टी के लाल प्रो विजय अवधेश सिंह, आईएपीटी – एपीएचओ सेल के राष्ट्रीय समन्वयक व दिल्ली विश्वविधालय के एसोसिएट प्राध्यापक प्रो रवि भट्टाचार्जी  व ज्ञानोदय गुरुकुल के प्राचार्य डॉ हिमांशु पाण्डेय के व्याख्यान के साथ शुरू हुआ.

पहले दिन हुए डायग्नोस्टिक टेस्ट की चर्चा की व छात्रों को आईआईटी,  केवीपीवाई व ऑलम्पियाड के कई महत्वपूर्ण प्रश्नो को डिस्कस किया. अगले तकनीकी सत्र में सायंस कॉलेज के पूर्व प्राध्यापक प्रो एमएमआर अख़्तर ने मेकैनिक्स में सेंटर ऑफ मास पर विस्तृत चर्चा की. द्वितीय सत्र में छात्रों को नए प्रायोगिक मॉडेल प्रदर्शित करके हैंड्स ऑन ट्रेनिंग करायी गयी जिसे छात्रों ने ख़ूब एंज्वॉय किया व नए नए दोस्त बनाए.

अंतिम सत्र में पेरेंट्स व छात्रों के साथ कैरियर कॉन्सेलिंग प्रतिभा संवर्द्धन व एप्टीट्यूड पर चर्चा करते हुए ज्ञानोदय गुरुकुल के प्राचार्य डॉ. हिमांशु कुमार पाण्डेय व रवि भट्टाचार्जी ने हर प्रतिभागी के प्रदर्शन व रुचि को ध्यान में रखकर विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रदर्शन सुधारने व उनकी देखभाल से संबंधित कई उपायों पर चर्चा की.

अंत में सेर्टिफिकेट वितरण के बाद समूह फोटो लेने व राष्ट्रगान के बाद वर्कशॉप का समापन हुआ. विभिन्न विद्यालयों व आसपास के जिलों से आज लगभग ढाई सौ प्रतिभागी कार्यशाला में सम्मिलित हुए. छात्रों के समक्ष कई रुचिकर प्रायोगिक डेमोन्स्ट्रेशन भी  किये गये.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*