लाइव सिटिज डेस्क : वैसे तो सभी के सोने का तरीका अलग होता है लेकिन अधिकतर लोगों की आदत होती है पेट के बल सोना. अगर आप भी उन्हीं लोगों में से एक हैं तो अपनी इस आदत के नुकसान भी जान लें. जी हां, पेट के बल सोने से कई तरह की परेशानियां घेरती हैं जिनमें से एक है ब्लड का सर्कुलेशन सही तरीके से न होना. अगर आप भी पेट के बल सोते हैं तो आज ही अपने सोने की इस पोजिशन को बदल दें, चलिए जानते हैं पेट के बल सोने से क्या-क्या परेशानियां हो सकती हैं. इसके अलावा आज हम आपको सोने की सही पोजिशन भी बताएंगे.

1. सिरदर्द

अगर आप पेट के बाल सोते है आपको भी हर वक्त सिर दर्द रहता होगा. दरअसल, इस पोजिशन में सोने से गर्दन मड़ जाती है और सिर तक ब्लड की सप्लाई नहीं हो पाती है, जिस वजह से सिर भारी-भारी व दर्द रहने लगते हैं.

2. जोड़ों का दर्द

शरीर की सही पोजिशन न होने के कारण भी हड्डियों में दर्द रहने लगते हैं. अक्सर पेट के बल सोने वाले व्यक्तियों को इस दिक्कत का सामना करना पड़ता है. अगर आप भी इसी पोजिशन में सो रहे है तो अपनी आदत को सुधार लें.

3. चेहरे पर असर

जब हम पेट के बल सोते है तो स्किन को अच्छे से ऑक्सीजन नहीं मिल पाती. साथ ही बिस्तर पर लगे बैक्टीरिया पर चेहरे के संपर्क में आ जाते हैं, जिस वजह से चेहरे पर दाग-धब्बे व पिंपल्स होने लगते हैं.

4. बैक पेन की शिकायत

पेट के बल सोने से रीढ़ की हड्डी अपनी नैचुरल शेप में नहीं रहती, जिस वजह से बैक पेन होने लगती हैं. कभी-कभी दर्द इतना बढ़ जाता है कि बैठना-उठना तक मुश्किल हो जाता हैं.

5. पेट खराब

पेट के बल सोने से खाना ठीक से पच नहीं पाता जिससे इनडाइजेशन की शिकायत रहती है. कभी-कभी पेट में दर्द भी रहने लगता है. इसलिए हमेशा बाईं करवट लेकर या पीठ के बल ही सोएं.

सोने की कौन-सी पोजीशन हैं बेहतर?

हेल्थ के हिसाब से पीठ के बल सोने की पोजिशन एकदम सही मानी जाती हैं. इससे शरीर के सभी हिस्से सही तरीके से काम करते रहते हैं. इतना ही नहीं पीठ के बल सोने से नींद भी अच्छी आती है. वहीं अगर आपका पाचन संबंधी प्रॉबल्म रहती है तो हमेशा बांयी करवट लेकर सोएं.