बिहार में फ़िल्म सिटी का सपना हो रहा साकार, निर्माता हैदर काजमी करा रहे निर्माण

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: अपनी ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और बौद्धिक विरासत से धनी बिहार में अब फ़िल्म सिटी का सपना साकार हो रहा है, क्योंकि बिहार की माटी से ही आने वाले दिग्गज फ़िल्म निर्माता हैदर काजमी ने इस दिशा में कदम बढ़ा चुके हैं. हैदर काजमी इस फ़िल्म फ़िल्म सिटी का निर्माण कभी लाल आंतक के नाम से मशहूर बिहार के जहानाबाद जिले अली नगरपालि काको में करवा रहे हैं, जो वे खुद भी अपनी कई फिल्मों की शूटिंग कर चुके हैं. उन्होंने अपनी लास्ट फ़िल्म चुहिया की शूटिंग यहां की थी, तब उन्होंने कहा था कि बिहार में फ़िल्म का माहौल बनाने के फ़िल्म सिटी बेहद जरूरी है.

बिहार के तमाम कलाकारों के साथ हैदर भी यहां सिनेमा कल्चर को आगे बढ़ाने और यहां के कलाकारों को एक मौका देने के लिए फ़िल्म सिटी की जरूरत को महसूस कर रहे थे. बातें लगातार हो रही थी, लेकिन सबों ने इसे सरकार के पाले में छोड़ दिया. मगर हैदर काज़मी ने बिहार में फ़िल्म सिटी की स्थापना को अपनी जिद्द बनाया और आज वे काको जहानाबाद में वे फ़िल्म सिटी के निर्माण में लग गए हैं, जो पटना एयरपोर्ट से महज 60 किलोमीटर की दूरी पर है.

हैदर ने बताया कि अब वो दिन दूर नहीं, जब बिहार में भी मेकर्स आकर फ़िल्म बनाएंगे. हमने 12 एकर्स के क्षेत्र फल में फ़िल्म सिटी का निर्माण शुरू कर दिया है. इस कोरोना संकट में जहां रोजगार खत्म हो गया है, वहीं फ़िल्म सिटी निर्माण के मध्यम से फिलहाल रोज 10 लोग वहां मेंटेनेंस पर काम भी कर रहे हैं. वहां एक साउंड प्रूफ जेनरेटर है और तकरीबन 100 लोगों के रहने की सुविधा भी उपलब्ध है. इसके अलावा दो डेकोरेटेड सूट रूम है अभिनेता और अभिनेत्रियों के लिए. पुलिस स्टेशन और हवेली भी है. विलेज हुट्स लोकेशन के साथ नॉर्मल विलेज हाउस है. हॉस्पिटल भी है इस लोकेशन में उन्होंने बताया कि वे इस जगह पर कालिया, लड़ाई, बैंडिट शकुन्तला और चुहिया की शूटिंग कर चुके हैं.