लाइव सिटीज डेस्क: राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा जोरों पर हो रही कि रजनीकांत और कमल हासन गठजोड़ कर राजनीति में एक मंच पर आएंगे. मगर इसकी संभावना खत्म होती दिख रही है. दक्षिण भारत की राजनीति में कदम रखने का निर्णय ले चुके सुपर स्टार कमल हासन ने रजनीकांत के साथ गठबंधन पर बड़ा बयान दिया है. रविवार को कमल हासन ने रजनीकांत के साथ राजनीतिक गठजोड़ की संभावनाओं से इनकार करते हुए कहा कि वो उन्हें ‘भगवा’ नेता मानते हैं.

उन्होंने कहा कि रजनीकांत की राजनीति में भगवा रंग नजर आ रहा है. यदि ऐसा है तो उनके साथ गठबंधन करना मेरे लिए मुश्किल है. हासन ने कहा कि हम अच्छे दोस्त तो हैं ये सभी जानते हैं, लेकिन राजनीतिक विचार दोस्ती से अलग हैं.

कमल हासन ने मोदी सरकार को भी आड़े हाथों लिया. उन्‍होंने कहा, कि सरकार हमें खाने के लिए पर्याप्त बीफ नहीं उपलब्ध करा रही है और वो हमें ये बताना चाहती है कि हम क्या खाएं क्या न खाएं? वहीं कमल हासन ने लव जिहाद के मुद्दे पर कहा कि प्यार की जीत हमेशा होती है.

यहां चर्चा कर दें कि दोनों ही तमिलनाडु में होने वाले चुनाव में अपनी पार्टी के उम्मीदवार खड़े करेंगे, हालांकि दोनों ने फिलहाल अपनी पार्टियों के नामों की घोषणा नहीं की है.

इससे पहले गठबंधन के सवाल पर कमल हासन ने एक इंटरव्यू में कहा था कि पहले दोनों को पार्टी बनाने दें और अपनी नीतियां घोषित करने दें. इसके बाद नीतियां बनाई जाएंगी और देखा जाएगा कि गठबंधन पर विचार किया जाए या नहीं. हासन ने कहा था कि रजनीकांत के साथ समझौता करने का सवाल फिल्म के लिए कलाकार चुनने की तरह नहीं है, क्योंकि दोनों अलग-अलग चीजें हैं. वहीं इस बारे में प्रतिक्रिया मांगे जाने पर रजनीकांत ने संवाददाताओं से कहा कि हासन के साथ गठबंधन के बारे में समय ही बताएगा.

देखिए #VIDEO : सीएम नीतीश कुमार जेडीयू का बीजेपी में विलय करने की कर रहे हैं तैयारी…