‘सुप्रीम’ फैसला : पूरे देश में रिलीज होगी पद्मावत, सभी याचिकाएं ख़ारिज

लाइव सिटीज डेस्क: फिल्म पद्मावत पर कई दिनों से लगातार विवाद चल ही रहा था. फिल्म के डायरेक्टर को बड़ी राहत मिली है. राजस्थान और मध्य प्रदेश में हो रहे रोक पर अब सारी याचिकाएं ख़ारिज कर दी गई है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अराजक तत्वों को तरजीह नहीं दे सकते हैं. शीर्ष कोर्ट के इस फैसले के साथ 25 जनवरी को फिल्म ‘पद्मावत’ के रिलीज होने के सभी रास्ते साफ हो गए हैं. अब पूरे देश में एक साथ यह फिल्‍म रिलीज होगी. सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर दोहराते हुए कहा कि कानून व्यवस्था को बनाए रखना राज्यों की जिम्मेदारी है.

फिल्म पद्मावत की टीम के लिए मंगलवार का दिन एक और राहत लेकर आया. सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान और मध्य प्रदेश सरकार की फिल्म पर रोक लगाने के लिए दायर पुनर्विचार याचिका खारिज करते हुए अपने आदेश में कोई बदलाव नहीं किया. कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि सभी राज्यों को सर्वोच्च अदालत के फैसले का सम्मान करना चाहिए और इसका पालन कराना राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है.

पद्मावत

देखें वीडियो: 

राजस्थान सरकार का पक्ष रख रहे अडिशनल सलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि हम कोर्ट से फिल्म पद्मावत पर रोक लगाने के लिए नहीं सिर्फ आदेश में कुछ बदलाव की अनुमति देने की मांग कर रहे हैं. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अगुआई वाली तीन जजों की बेंच ने कहा, ‘लोगों को यह समझना होगा कि यहां एक संवैधानिक संस्था है और वैसे भी हमने इस संबंध में आदेश पारित कर दिया है.’

सुप्रीम कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए तीखी टिप्पणी की. तीन जजों की बेंच ने कहा कि राज्यों ने यह बिना मतलब की समस्या खुद पैदा की है और इसके लिए वही जिम्मेदार हैं. राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है कि अपने क्षेत्र में कानून-व्यवस्था बहाल करें.

बता दें कि दोनों राज्य सरकारों ने फिल्म पद्मावत के प्रदर्शन की अनुमति देने के उसके 18 जनवरी के आदेश को वापस लेने की मांग की गई थी. दोनों राज्य सरकारों ने इस आधार पर शीर्ष अदालत से अपना पिछला आदेश वापस लेने की मांग की थी कि इससे इन राज्यों में कानून व्यवस्था की समस्या पैदा होगी. शीर्ष अदालत ने फिल्म के प्रदर्शन पर गुजरात, हरियाणा उत्तर प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यों द्वारा लगाए गए प्रतिबंध को 18 जनवरी को हटाकर 25 जनवरी को देश भर में इसे प्रदर्शित किए जाने का रास्ता साफ कर दिया था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*