शराब के नशे में हंगामा करना बिजली विभाग के जेई को पड़ा भारी, पुलिस ने तीनों को भेजा जेल

लाइव सिटीज, कैमूर/भभुआ(ब्रजेश दुबे) : बिहार में शराबबंदी कानून लागू होने के बाद भी धड़ल्ले से शराब की बिक्री होने का सिलसिला जारी है. खुद सरकारी अफसर ही सरकार के इस कानून की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं. ताजा मामला कैमूर जिले के मोहनिया अनुमंडल का है. जहां शराब के नशे में हंगामा कर रहे बिजली विभाग के जेई समेत तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

जिले के मोहनिया पुलिस ने शराब के नशे मे हंगामा कर रहे बिजली बिभाग के जेई एवं उनके साथियों को  गिरफ्तार कर लिया है. ये लोग शराब पीकर मोहनिया बस स्टैंड में हंगामा कर रहे थे तभी किसी के द्वारा फोन करके इस बात की सूचना मोहनिया पुलिस को दी गयी, इसके बाद पुलिस जब मोहनिया बस स्टैंड में पहुंची तो शराब के नशे मे हंगामा कर रहे एक व्यक्ति ने खुद को जेई बता कर पुलिस के ऊपर भी धौंस जमाने लगा, पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया.

गिरफ्तार करने के बाद इन तीनों का मेडिकल कराया गया, जिसमें शराब पीने की पुष्टि हुई. इसके बाद पुलिस के द्वारा सभी लोगों को संबंधित धाराओं के तहत कार्रवाई करते हुये जेल भेज दिया गया. बताते चलें कि शराबबंदी वाले बिहार में सभी सरकारी कर्मियों को शराब नहीं पीने का हर साल शपथ दिलाया जाता है. यह लोग शपथ भी लेते हैं और शराब पीकर शराब बंदी का माखौल उड़ाते हैं .

मोहनिया डीएसपी रघुनाथ सिंह ने बताया मोहनिया में एक बिजली विभाग के जेई और उनके साथ दो और लोगों को गिरफ्तार किया गया है. यह तीनों लोग शराब के नशे में चूर थे. पूछताछ में इन्होंने मोहनिया में बिजली विभाग में जेई होने की बात बताई है. सभी लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.