लाइव सिटूज, सेंट्रल डेस्क : सुपर स्‍टार प्रदीप पांडेय चिंटू और अक्षरा सिंह स्‍टारर भोजपुरी ‘लैला मजनू’ जलवा बॉक्‍स ऑफिस पर खूब दिख रहा है. लेकिन इसी बीच फिल्‍म में समा के किरदार में नजर आने वाली अभिनेत्री सोनालिका प्रसाद ने कुछ चौंकाने वाले खुलासे किये हैं. दरअसल, समा (सोनालिका प्रसाद) का किरदार फिल्‍म ‘लैला मजनू’ में लैला (अक्षरा सिंह) और मजनू (प्रदीप पांडेय चिंटू) के बीच ब्रिज जैसा है. उनके बिना फिल्‍म की कहानी अधूरी होती, मगर फिर भी वे न तो फिल्‍म के प्रमोशन में नजर आईं और न ही पोस्‍टर-ट्रेलर में उन्‍हें ज्‍यादा जगह मिली. आखिर ऐसा क्‍यों हुआ उनके साथ, इस बात का खुलासा खुद सोनालिका प्रसादने की है.

भोजपुरी फिल्‍म ‘राजतिलक’ से बतौर लीड फिल्‍मों में इंट्री करने वाली सोनालिका प्रसाद का किरदार फिल्‍म ‘लैला मजनू’ अक्षरा और चिंटू पांडेय से कम नहीं हैं. फिर भी पोस्‍टर, प्रोमोशन और ट्रेलर में शामिल नहीं किये जाने को लेकर सोनालिका ने कहा कि यही सवाल उन्‍होंने निर्माता राजकुमार आर पांडेय से पूछा था. जिसका जवाब देते हुए उन्‍होंने कहा था कि वे सोनालिका को सरप्राइजिंग पैकेज की तर‍ह इस्‍तेमाल चाहते थे. वे चाहते थे कि जब दर्शक लैला मजनू यानी अक्षरा-चिंटू को देखने जायें, तब उन्‍हें सोनालिका प्रसाद के रूप में एक सरप्राइज मिले और हुआ भी यही.

ये राजकुमार आर पांडेय की स्‍ट्रेटजी थी, क्‍योंकि सोनालिका फिल्‍म में स्‍टार्ट टू एंड तक जोरदार तरीके से नजर आयीं हैं. सोनालिका प्रसाद ने कहा कि राजकुमार आर पांडेय के साथ काम करने का अनुभव बेहतरीन रहा. उनसे बहुत कुछ सीखने को भी मिला. वे इंडस्‍ट्री को अच्‍छे से जानते हैं, इसलिए वे उनकी मुरीद हो गईं. सोनालिका ने कहा कि फिल्‍म का क्‍लाइमेक्‍स बेहद शानदार है, जब वे लैला और मजनू को मिलाती हैं. क्‍लाइमेक्‍स में पूरा फोकस उनपर ही रहता है.

सोनालिका ने कहा कि फिल्‍म में उनकी भूमिका अक्षरा सिंह के बहन की है. जो बेहद चुलबुली और शोख अदाओं वाली है. खासकर युवा दर्शकों को उनकी अदाकारी खूब भा रही है. सोनालिका ने फिल्‍म को मिल रही सफलता पर खुशी का भी इजहार किया है और भोजपुरिया दर्शकों को थैंक्‍स भी कहा है.