नहीं रहे एक्टर-डायरेक्टर नीरज वोरा, 54 की उम्र में निधन

लाइव सिटीज डेस्क : हिंदी सिनेमा में कई फ़िल्में देने वाले और अपनी फिल्मों से हँसाने रुलाने वाले एक्टर और फिल्म मेकर नीरज वोरा का गुरुवार को निधन हो गया. वो 54 साल के थे. उन्होंने फिर हेरा फेरी जैसी कॉमेडी फिल्में बनाईं. वो कई फिल्मों में कॉमिक रोल में भी नजर आए. कई सुपरहिट पटकथाएं भी लिखी.

नीरज अंतिम समय में आर्थिक तंगी से गुजर रहे थे. पिछले 1 साल से वो कोमा में थे. केवल उनकी आंखें हिलती थीं. उनके परिवार में कोई नहीं था. इस मुश्किल घड़ी में उनका साथ 18 साल पुराने जिगरी दोस्त फिरोज नाडियाडवाला ने दिया.



नीरज की फिल्मों को दर्शकों ने बहुत पसंद किया था. वो हेरा फेरी 3 भी बनाना चाहते थे, लेकिन बीमारी की वजह से ऐसा संभव नहीं हो पाया. फिर हेरा फेरी में उन्होंने गेस्ट अपीयरेंस भी दिया था. इसके अलावा उन्होंने खिलाड़ी 420, रन भोला रन, फैमिलीवाला जैसी फिल्मों को भी डायरेक्ट किया था.

डायरेक्टर के अलावा वो राइटर भी थे. उन्‍होंने रंगीला, अकेले हम अकेले तुम, ताल, जोश, बदमाश, चोरी चोरी चुपके चुपके, अवारा पागल दीवाना जैसी फिल्‍मों के संवाद लिखे थे. उन्होंने मन, बोल बच्चन, रंगीला, विरासत सहित करीब 23 फिल्मों में एक्टिंग की थी. उन्हें हेरा फेरी के लिए स्क्रीन अवॉर्ड फॉर बेस्ट स्क्रीनप्ले और बेस्ट डायलॉग भी मिला था.

आपको बता दें कि पिछले साल अक्टूबर में उन्हें हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक आया था. इसके बाद उन्‍हें दिल्ली स्थित एम्स में एडमिट कराया गया था. वहां वो कोमा में चले गए थे. उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. एम्स से उन्हें उनके दोस्त फिरोज नाडियाडवाला के घर शिफ्ट कर दिया गया था. फिरोज ही उनकी सारी जिम्‍मेदारी उठा रहे थे. फिरोज ने जुहू स्थित अपने घर ‘बरकत विला’ के एक कमरे को आईसीयू में बदल दिया था.

बॉलीवुड में ये 8 बिहारी कलाकार सभी लोगों के दिलों पर करते हैं राज, आज भी कायम है इनका जलवा