‘कोई दीवाना कहता है…’ से युवाओं के दिलों में बसने वाले कुमार विश्वास के बारे में कुछ बातें

लाइव सिटिज डेस्क : आधुनिक हिंदी कविता को एक बार फिर से युवाओं के बीच में जिंदा करने का श्रेय प्रोफेसर कुमार विश्वास को दिया जाता है. कुमार विश्वास इस समय दिल्ली में सत्ताधारी पार्टी आम आदमी पार्टी के मुख्य सदस्यों में से एक हैं. आज हम आपको कुमार विश्वास के बारे में जानें कुछ बातें.

1. कुमार विश्वास का जन्म 10 फरवरी साल 1970 को उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के पिलखुआ नामक स्थान पर हुआ था.

2. कुमार विश्वास के पिता डॉक्टर चंद्रपाल शर्मा आरएसएस डिग्री कॉलेज में प्राध्यापक थे और इनकी मां रमा शर्मा ग्रहणी थीं.
3. कुमार विश्वास अपने चार भाईयों में सबसे छोटे थे.
4. कुमार विश्वास ने प्रारंभिक शिक्षा पिलखुआ के लाला गंगा सहाय विद्यालय और 12वीं तक की पढ़ाई राजपुताना रेजिमेंट इंटर कॉलेज से पूरी की.
5. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कुमार विश्वास के पिता जी चाहते थे कि वे इंजीनियर बनें लेकिन कुमार विश्वास का मन में इंजानियरिंग की पढ़ाई में नहीं लगता था.

6. इंजीनियरिंग की पढ़ाई बीच में ही छोड़ने के बाद कुमार विश्वास ने हिंदी साहित्य में स्नातक की डिग्री गोल्ड मेडल के साथ पूरी की.
7. एम ए की पढ़ाई पूरी करने के बाद कुमार विश्वास ने कौरवी लोकगीतों में लोकचेतना नामक विषय पर पीएचडी पूरी की.
8. कुमार विश्वास के हिंदी साहित्य में किये गये शोधकार्य को साल 2001 में पुरस्कार भी प्रदान किया गया.
9. साल 1994 में कुमार विश्वास ने राजस्थान के एक कॉलेज में लेक्चरर के रूप में अपनी पहली नौकरी की शुरुआत की थी.
10. कुमार विश्वास आज के दौर में हिंदी कविता मंच के सबसे व्यस्ततम कवियों में से एक माने जाते हैं.

11. कुमार विश्वास ने पढ़ाई के दौर से ही कविता पाठ करने की शुरुआत कर दी थी लेकिन कुमार विश्वास को पहचान ‘कोई दीवाना कहता है’ के साथ मिली थी.
12. एक वेबसाइट को दिये गये एक इंटरव्यू में कुमार विश्वास ने एक बार बताया था कि शुरुआती दिनों में देर रात कवि सम्मेलनों से वापस आते समय वे पैसे बचाने के लिए ट्रकों में लिफ्ट लेते थे.
13. साल 2011 में अन्ना हजारे ने जब जनलोकपाल आंदोलन शुरु किया तो कुमार विश्वास उनकी टीम के मुख्य सदस्यों में से एक थे.

14. 26 जनवरी साल 2012 को अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में बनाई गई आम आदमी पार्टी के मुख्य सदस्यों में कुमार विश्वास भी शामिल थे.
15. कुमार विश्वास की मुख्य रचनाओं में से मुख्य कोई दीवाना कहता है. होठों पर गंगा है , तुम्हें मैं प्यार नहीं दे पाऊंगा आदि हैं.

16. हाल ही में आम आदमी पार्टी द्वारा राज्यसभा के लिए चयनित लोगों में कुमार विश्वास का नाम ना होने पर एक विवाद खड़ा हो गया था.
17. साल 1994 में कुमार विश्वास को काव्य कुमार, साल 2004 में डॉ सुमन अलंकरण अवॉर्ड, साल 2006 में श्री साहित्य अवॉर्ड और साल 2010 में गीत श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.
18. कुमार विश्वास आज के दौर में कविता पाठ के लिए किसी भी बड़े चैनल के लिए पसंदीदा नामों में से एक होते हैं.

About Ritesh Kumar 2656 Articles
Only I can change my life. No one can do it for me.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*