पढ़िए इस मां की दर्दनाक कहानी, अस्पताल में भर्ती कराकर फरार हुआ बेटा

geeta

लाइव सिटीज डेस्क : वक्त ने किया क्या हसीं सितम, हम रहे न हम…तुम रहे न तुम… गुरुदत्त पर फिल्माया गया ये गाना फिल्मी दुनिया से ताल्लुक रखने वालों की ज़िंदगी को बखूबी बयां करता है. यहां कलाकारों को तालियां तभी तक नसीब होती हैं, जब तक वो पर्दे पर नजर आते हैं. गुमनामी तालियों के साथ आस भी छीन लेती है. ऐसी फेहरिस्त में एक और अभिनेत्री का नाम शामिल हो गया है. किसी दौर में पाकीज़ा जैसी क्लासिक फिल्म में अभिनय कर चुकीं गीता कपूर अपने ही बेटे की वजह से आज बुरे दौर से गुज़र रही हैं.



गीता कपूर की पिछले महीने तबियत खराब हो गई थी, जिसके बाद गीता के बेटे राजा कपूर ने एक निजी अस्पताल से एम्बुलेंस मंगा कर उन्हें अस्पताल में भर्ती कर दिया था. पेशे से कोरियोग्राफर बेटा अपनी 58 साल की मां को अस्पताल में भर्ती कर फरार हो गया है. 21 अप्रैल को अस्पताल में भर्ती करने के बाद गीता का बेटा न तो अस्पताल आया और न ही फ़ोन उठाकर कुछ बात कर रहा है. जिस घर में राजा कपूर रहा था वह उस घर को भी छोड़कर जा चुका है.


गीता खुद को बीते जमाने की अदाकारा बताती हैं. गीता कपूर ने लगभग 100 से भी ज्यादा फिल्मो में काम किया है. गीता की सबसे ज्यादा चर्चित फिल्म पाकीज़ा और रज़िया सुल्तान रही है. गीता बताती हैं कि वो पाकीज़ा में राजकुमार की दूसरी बीवी के किरदार में हैं. गीता को अस्पताल में भर्ती हुए एक महीने से ज्यादा का समय हो चुका है.

अस्पताल की तरफ से कहा जा रहा है कि अब गीता की  तबियत में सुधार है. अस्पताल का लाखो का बिल बन चुका है. गीता अब ठीक हो चुकी हैं लेकिन उन्हें अभी तक कोई डिस्चार्ज करवाने के लिए नही आया है. इसी वजह से गीता के आंसू नहीं रुक रहे हैं. अब अस्पताल भी गीता के लिए किसी ओल्डएज होम की तलाश कर रहा है.

जैसे-जैसे गीता के बारे में इंडस्ट्री के लोगों को जानकारी मिल रही है वैसे ही लोग बेटे राजा कपूर से अपील कर रहे हैं कि वो अपनी मां को अस्पताल से लेकर जाए. इस मामले में पुलिस पर भी उंगली उठ रही है. इस मामले में अस्पताल प्रशासन ने 2 मई को ही पुलिस में लिखित शिकायत दर्ज करवा दी थी.

यह भी पढ़ें – बेउर जेल के 6 कैदियों ने पास की PG की परीक्षा, दीक्षांत समारोह में मिलेगी डिग्री
सामाजिक पहल : सिकंदरा विधायक गरीब की बेटी संग लेंगे सात फेरे