OMG! दुनिया का एक अनोखा गांव जहां लड़कियां 12 साल की उम्र के बाद धीरे-धीरे बन जाती हैं लड़का

लाइव सिटीज डेस्क : यह बात सभी लोग जानते हैं कि यह दुनिया बहुत बड़ी है और यहां कई अनोखी और आश्चर्यजनक चीजें होती रहती हैं. कई ऐसी घटनाएं होती हैं, जिनके ऊपर विश्वास ही नहीं होता है. कई बार खुद की आंखों से देखने के बाद भी यकीन नहीं होता है कि ऐसा भी हो सकता है. यह बात सभी जानते हैं कि मनुष्य के दो ही लिंग हैं. एक स्त्री और दूसरा पुरुष. दोनों के लिंग का निर्धारण जन्म के समय ही हो जाता है. लेकिन एक ऐसा गांव भी है, जहां किशोर होते ही लड़कियां लड़का बन जाती हैं.



पैदा होने वाले बच्चों को एक अजीब तरह की बीमारी 

दरअसल, हम बात कर रहे हैं डोमिनिकन रिपब्लिक के एक छोटे से गांव ला सेलिनास की. यहां के पैदा होने वाले बच्चों को एक अजीब तरह की बीमारी ने जकड़ रखा है. इस बीमारी का असर ऐसा है कि जन्म से लड़की बंकर पैदा हुई बच्ची जब किशोरावस्था में आती है तो वह अपने आप लड़का बन जाती है. जानकारी के अनुसार इस कैरिबियाई देश के सेलिनास गांव में 12 साल की लड़कियों को लड़का बनाने की लाइलाज बीमारी से पूरा गांव परेशान है.

समाज में उन्हें वो दर्जा नहीं दिया जाता

जो बच्चे इस बीमारी से ग्रसित हैं, उन्हें लोग नीची नजरों से देखते हैं. समाज में उन्हें वो दर्जा नहीं दिया जाता है जो अन्य बच्चों को दिया जाता है. बीमारी से ग्रसित इन बच्चों को ग्वेदोचे नाम से बुलाया जाता है. यह शब्द किन्नरों के लिए इस्तेमाल किया जाता है. चिकित्सकों के अनुसार यह बीमारी एक अनुवांशिक विकार का नतीजा है. स्थानीय भाषा में इससे ग्रस्तक बच्चों को ‘सूडोहर्माफ्रडाइट’ कहते हैं.

लड़कियों में धीरे-धीरे लड़कों के अंग विकसित हो जाते हैं

इस बीमारी से ग्रसित लड़कियों में धीरे-धीरे लड़कों के अंग विकसित हो जाते हैं और उनकी आवाज भी भारी हो जाती है. उनके शरीर में वो बदलाव होने लगते हैं जो धीरे-धीरे उन्हें लड़की से लड़का बना देते हैं. यह एक अजीबो-गरीब बीमारी है जो गांव के हर 90 में से 1 बच्चे को अपना शिकार बना रही है. ऐसा माना जा रहा है कि इन बच्चों में हार्मोनल एंजाइम की कमी के चलते वे बिना किसी स्त्री या पुरुष अंग के जन्म लेते हैं. इसके बाद ही लड़की बनकर पैदा हुई बच्ची धीरे-धीरे लड़का बन जाती है.