लाल बाल, हरी आंखें, विदेशी नहीं ये है इंडियन,विदेशी लुक के कारण इस लड़की का लोग करते हैं अपमान

लाइव सिटीज डेस्क : भारत में एक अजीब सा मामला सामने आया है जहां बारत में ही जन्मी लड़की को अपने लुक की वजह से कई तरह के कमेंट्स झेल रही है. अपने फॉरेनर लुक, लाल बाल और खूबसूरती की वजह से एक इंडियन युवती अपने ही देश में पिछले कई साल से बुली का शिकार हो रही है.


भारतीय माता-पिता के घर पैदा होने वाली ये लड़की पिछले कई सालों से अपमानजनक और नस्लीय टिप्पणियां झेल रही है. अपने ही देश में उसे विदेशी होने का अहसास कराया जाता है. इन परेशानियों से तंग आकर इस लड़की ने फेसबुक पर अपनी पूरी कहानी लिखी है.



फेसबुक पर पूजा ने लिखा

हम बात कर रहे हैं मुंबई की रहने वाली पूजा गणात्रा की. पूजा के लाल बाल, स्किन पर झाइयां और हरी आंखें हैं. जिस कारण वे देखने में एक फॉरेनर जैसी लगती हैं. पूजा के माता-पिता का स्किन टोन और लुक इंडियन लोगों जैसा ही है. उनके लिए पूजा का कॉम्प्लेक्सन किसी ‘रहस्य’ से कम नहीं है. पूजा के जन्म के बाद दोनों के दूसरी संतान पैदा नहीं करने का फैसला लिया.

उनके इस लुक को देख लोगों ने कई बार उन्हें बुली किया. उन्हें परेशान करने वाले मानते हैं कि उनको त्वचा संबंधी कोई बीमारी है. अपने अनयूजुअल लुक्स को लेकर पूजा ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है,”मुझे खुद भी नहीं मालूम कि मेरा लुक किसी विदेशी महिला जैसा कैसे है. मेरे पैरंट्स इंडियन मूल के हैं.”

आगे पूजा कहती हैं,”जन्म वाले दिन से ही मैं सबसे अलग दिखती थी.” वह खुद पर की जाने वाली टिप्पणियों को लेकर समाज से अलग पाती हैं. गणात्रा को उनके लुक्स के लिए स्कूल के फ्रेंड्स भी टॉर्ट कसते थे. कई बार इन टिप्पणियों से परेशान होकर वह रोने तक लगती थीं.

प्रोफेसर ने भी कसा तंज

गुजरते वक्त के साथ उन्हें चिढ़ाने वालों की तादाद बढ़ती रही और इस वजह से वह खुद को अट्रैक्टिव नहीं मानती थीं. एक वाकये को याद करते हुए पूजा कहती हैं कि यूनिवर्सिटी में एक महिला प्रफेसर ने उनसे पूछा था, क्या कभी खुद को शीशे में देखा है? प्रोफेसर ने पूजा से कहा, ”तुम्हारा स्लीवलेस टॉप तुम्हारी वाइट स्किन से इस कदर मैच करता है कि यह आई कैची है. तुमको इसे छोड़कर उचित ड्रेस पहनना चाहिए.” यह तब होता था जबकि ड्रेसिंग को लेकर ऐसा कोई नियम नहीं था.

पूजा ने अपने डीएनए टेस्ट की उठाई मांग

लुक के चलते अजनबी लोग पूजा को कई बार हिन्दी बोलते हुए सुनते हैं तो हैरान रह जाते हैं. यहां तक कि विदेशी मानकर उन्हें टूरिस्ट समझ बैठते हैं. पूजा के इस लुक पर स्किन डॉक्टर्स का कहना है कि उन्हें किसी तरह की कोई बिमारी नहीं है. हो सकता है कि उनके पूर्वजों में से कोई ब्रिटिश रहा होगा.

लोगों के लगातार तानों से परेशान पूजा ने अपने फेसबुक पेज पर अपना डीएनए टेस्ट करवाने की मांग उठाई है. पूजा के मुताबिक, वह जैसी हैं वैसा वह खुद को स्वीकार कर चुकी हैं और उन्हें अपने लुक पर गर्व है. अब उन्हें लोगों की टिप्पणी का कोई असर नहीं पड़ता.

गारमेंट्स के बिजनेस से जुड़ा है पूजा का परिवार

पूजा की फैमिली मुंबई में गारमेंट्स बनाने के बिजनेस से जुड़ी हुई है. पूजा फिलहाल पढ़ाई कर रही हैं और आने वाले दिनों में परिवार का बिजनेस संभालना चाहती हैं.