कभी खेतों में मजदूर की तरह काम करने को थे मजबूर, आज हैं भारत के 34वें सबसे अमीर शख्सियत

लाइव सिटीज डेस्क : कितना अजीब लगता है न जब एक किसान या एक गरीब घर का लड़का कुछ ऐसा कर जाता है जिसे दुनिया सलाम करने लग जाती है. कुछ ऐसी ही कहानी है केरल के एनआरआई उद्योगपति बी रवि पिल्लई की. रवि पिल्लई एनआरआई होने के साथ ही साथ अपनी कंपनी RP Group of Companies के मालिक भी हैं और इनकी गिनती भारत के 34वें सबसे अमीर व्यक्तियों में होती है.

रवि पिल्लई का जन्म केरल के एक किसान परिवार में हुआ



रवि पिल्लई का जन्म केरल के एक किसान परिवार में हुआ. गरीब परिवार का लड़का होने के चलते उन्हें अपनी जिंदगी में बहुत ही मुश्किलों का सामना करना पड़ा. उनके पिता किसानी करते थे इसलिए इन्हें भी किसानी करनी पड़ी थी.

हमेशा से एक बिजनेसमैन बनना चाहते थे

रवि आज अपनी कंपनी चला रहे हैं और कहते हैं कि वे हमेशा से एक बिजनेसमैन बनना चाहते थे. शुरुआत उन्होंने चिट-फंड कंपनी से की, पर जल्द ही उन्हें लगा कि कंस्ट्रक्शन के बिजनेस में जाकर ज्यादा आमदनी की जा सकती है.

बचत के सारे पैसे लेकर साउदी अरब चले गए

70 के दशक की शुरूआत में उन्होंने तेल रिफाईनरी और केमिकल कंपनियों से छोटे-छोटे कॉनट्रेक्ट लेने शुरू कर दिए. 1979 में वे अपने बचत के सारे पैसे लेकर साउदी अरब चले गए.

 2.8 बिलियन संपत्ति के साथ वे भारत के 34वें सबसे अमीर व्यक्ति 

आज वे कंस्ट्रक्शन क्षेत्र का एक जाना माना नाम और आरपी ग्रुप ऑफ कंपनी के एमडी हैं. 2.8 बिलियन संपत्ति के साथ वे भारत के 34वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं.