इस तरह के कपड़ों से सलमान भाई को है एलर्जी, आप भी नहीं पहने ये 5 फैब्रिक, हो सकता है नुकसान

लाइव सिटीज डेस्क : आजकल युवाओं के साथ ही साथ बुजुर्गों में भी फैशन का चलन काफी आम बात है. आज लोग हर दिन अलग-अलग तरह के कपड़े पहनना चाहते हैं और ऐसे में लोग फैशन के चक्कर में खराब कपड़े भी खरीद लेते हैं जो उनकी स्कीन को सूट तक नहीं करती है. कपड़ों की खरीदारी करते वक्त हम लोग सिर्फ उनके डिजाइन और प्राइज का ध्यान रखते हैं. कोई भी उनका फैब्रिक नहीं देखता कि वो स्किन को सूट करेगा या नहीं. इस वजह से कई बार स्किन पर खुजली और कैमिकल रिएक्शन हो जाते हैं. इसीलिए जरूरी है कि कपड़े खरीदते वक्त उनके फैब्रिक का भी ध्यान रखा जाए.



यहां आपको उन 5 फैब्रिक की लिस्ट दी जा रही है, जिन्हें खरीदते वक्त एक बार जरूर चेक करें.

आपको बता दें सलमान खान को भी पॉलिस्टर फैब्रिक से एलर्जी है. इसी वजह से वह कभी भी इस फैब्रिक के कपड़े नहीं पहनते.

1. पॉलिस्टर

इस फैब्रिक को बनाते वक्त कई तरह के कैमिकल्स का इस्तेमाल होता है. इस वजह से स्किन से निकला पसीना और गंदगी को यह अब्जॉर्ब नहीं कर पाता और इसे रेगुलर पहनने पर त्वचा में खुजली, रेडनेस, रैशेज़ की शिकायत होने लगती है. इसीलिए इस सिंथेटिक फैब्रिक को अवॉइड करें.

2. एक्रिलिक फाइबर

यह फाइबर पर्यावरण के लिए बहुत हानिकारक होता है. ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में छपी एक खबर के मुताबिक एक्रिलिक फाइबर से महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर की संभावना बढ़ती है.

3. रेयॉन

सिल्क का सस्ता वर्जन है रेयॉन, जो लकड़ी के गूदे से बनता है. इस सस्ते फैब्रिक से कार्बन डाइसल्फाइड निकलता है जिससे सिर दर्द, उलटी, चेस्ट और मसल्स में दर्द होता है. जो लोग इसे ज़्यादा पहनते हैं उन्हें पार्किंसन नामक बीमारी होने का खतरा बना रहता है. इस बीमारी में सीधा दिमाग पर असर होता है जिससे हमेशा तनाव और चिंता बनी रहती है.

4. नायलॉन

यह कास्टिक सोडा, सल्फर एसिड और मेथेनैल से मिलकर बनता है, जिस वजह से ना सिर्फ पर्यावरण के लिए अच्छा होता है और ना ही स्किन के लिए. इससे स्किन एलर्जी, सिर दर्द, रीढ़ की हड्डी में दर्द, थकान और कैंसर जैसी परेशानियां होती हैं.

5. एसीटेट फैब्रिक

लकड़ियों के बुरादे से निकले सेल्युलोज से बनता है ये फैब्रिक, जिसे कई कैमिकल प्रोसेस से गुज़ारा जाता है. यह सिंथेटिक फैब्रिक भी त्वचा के लिए हानिकारक होता है.

इन फैब्रिक के अलावा सिंथेटिक कपड़ों को पहनने से पहले अच्छे से धोएं और इन कपड़ों को नॉन-टॉक्सिक डिटरजेंट से साफ करें. कोशिश करें कि हमेशा कॉटन, लिनेन, वुलेन, सिल्क जैसे नैचुरल फैब्रिक ही पहनें.