भारत का एक अनोखा मजार जहां चादर की बजाए लोग चढ़ाते हैं सिगरेट, पूरी होती है सबकी फरियाद

लाइव सिटीज डेस्क : भारत एक ऐसा देश हैं जहां अनेकताएं देखने को मिलती है. यहां पर तरह-तरह की आस्थाओं और परंपराओं को मानने वाले लोग रहते हैं. कोई मंदिर जाता है तो कोई मस्जिद, कोई गिरजाघर और मजार पर. हालांकि इन सभी जगहों पर आपने अगरबत्ती और चादर चढ़ाते देखी होगी. लेकिन उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक ऐसी मजार भी हैं जहां लोग चढ़ावे के तौर पर सिगरेट चढ़ाते हैं.



दो अलग अलग मजहब के लोग एक तीसरे मजहब के व्यक्ति की मजार पर चढ़ावा चढ़ा रहे हैं. चढ़ावा भी कोई फूल या चादर का नहीं बल्कि सिगरेट का. इस मजार का नाम ही पड़ गया है सिगरेट वाले बाबा की मजार. जी हां यह सुनकर आपको भले ही आश्चर्य हो लेकिन यह सच है. लखनऊ में रिंगरोड से आधा किलोमीटर अंदर बरी के जंगल में बनी इस मजार के चर्चे दूर दूर तक हैं. आइए बताते हैं आपका इस मजार के बारे में.

यह मजार वेल्स नामक एक क्रिश्चियन सिपाही की है जहां पर हिन्दू और मुस्लिम समेत सभी धर्मों के लोग आते हैं. यहां आने वाले लोग मजार पर सिगरेट जलाते हैं. वेल्स को लोग सिगरेट वाले बाबा कहकर पुकारते हैं.

ऐसे हुई थी वेल्स की मौत

सिगरेट बाबा की यह कब्र लखनऊ के मूसाबाग में है जो पहले खंडहर था. लेकिन अब यहां पर सब्जी मंडी बन चुकी है. इसके पीछे की कहानी ये है कि मूसाबाग में आजादी के पहले अंग्रेज रहते थे. 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के दौरान अंग्रेज सैनिकों और भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों के बीच में भयंकर गोलाबारी हुई थी. जिसमें यहां बनी अंग्रेजों की एक इमारत पूरी तरह से नष्ट हो गई थी. माना जाता है कि इस गोलाबारी में कैप्टन वेल्स मारे गए थे.

इसलिए चढ़ाते हैं सिगरेट

वेल्स को सिगरेट और शराब से बेहद प्रेम था. हालांकि इस मजार के बारे में जानकारी रखने वाले लोगों को भी नहीं यह नहीं पता कि कैप्टन वेल्स कब से कप्तान बाबा बन गए और वहां पर कब से सिगरेट चढ़ाए जाने लगी. अब इस मजार पर आने वाला हर व्यक्ति अगरबत्ती और चादर की बजाए कैप्टन बाबा को खुश करने के लिए सिगरेट चढ़ाता है. इस मजार के बारे में एक अनोखी मान्यता यह भी है कि यहां सिगरेट चढ़ाने वाले ज्यादातर प्रेमी जोड़े होते हैं. इसके पीछे मान्यता है कि इस मजार पर
सिगरेट चढ़ाने से प्रेमी या प्रेमिका को अपना खोया हुआ प्यार मिल जाता है.

मन्न्तें होती हैं पूरी

इसी वजह से प्रेमी लोग कैप्टन बाबा की मजार पर सिगरेट चढ़ाते हैं और अपनी मुराद पूरी करने की दुआ करते हैं. साथ यह भी कहते हैं यदि उनकी मुराद पूरी हुई तो फिर सिगरेट चढ़ाने आएंगे. इसी वजह से यहां पर काफी लोग आते हैं और जलती हुई सिगरेट्स चढ़ाकर जाते हैं. इस बारे में स्थानीय लोगों का कहना है कि सिगरेट के चढ़ावे से सिगरेट बाबा खुश होते हैं और उनकी मन्नतें पूरी करते हैं.