ATM से नहीं निकला पैसा लेकिन अकाउंट से कट गया, तो इस तरीके से 1 दिन में आ जाएगा पैसा

Tejashwi Yadav, bihar, ATM, Demonetisation, नोटबंदी

लाइव सिटीज डेस्क : कभी तकनीकी के कारण या कभी कुछ खराबी के कारण ऐसा अक्सर होता है एटीएम से पैसे निकालते वक्त हमारे हाथ में सॉरी की पर्ची आ जाती है. उसके बाद भी हम 2 से 3 बार लगातार कोशिश करते है कि शायद अब पैसे आ जाए पर नहीं आते हैं. इसके बाद हमें यह डर रहता है कि कहीं अकाउंट से पैसे नहीं कट जाए और ऐसा हो भी जाता है कि एटीएम से पैसे निकलते भी नहीं है और पैसे भी कट जाते हैं.

ऐसा ही केस दिल्ली के रहने वाले अमित के साथ हुआ था, जब उन्होंने एटीएम से 10,000 रूपए निकालने की कोशिश की तो दो बार सॉरी की पर्ची बाहर आ गई और तीसरी बार बैंक स्टेटमेंट में 10 हजार रूपए कट गए और पैसे भी नहीं निकले. लेकिन अमित की समस्या उस समय और बढ़ गई जब बैंक ने जिम्मेदारी लेने से मना कर दिया और ट्रांजेक्शन को सक्सेस बता दिया.



ऐसे में बड़ा सवाल उठता है कि आखिर ऐसे हालात में क्‍या करें. ऐसे में हम और आप परेशान हो जाते हैं, लेकिन ऐसे में परेशान होने की जरूरत नहीं है. बहुत से लोग बिना किसी प्रूफ के इस बात की शिकायत करने बैंक पहुंच जाते हैं, जिससे उन्हें राहत नहीं मिल पाती. हम आपको ऐसे कुछ उपाय बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से आप अपने अकाउंट से कटा हुआ पैसा वापस पा सकते हैं. RBI ने इसके लिए गाइडलाइंस बनाई है.

कैश न निकले तो तुरंत बैंक से करें संपर्क

आरबीआई की गाइडलाइंस के मुताबिक, चाहे आप अपने बैंक के ATM का इस्‍तेमाल करें या किसी दूसरे बैंक का, कैश नहीं निकलने और अकाउंट से पैसा कटने की सूरत में अपने बैंक की किसी भी नजदीकी ब्रांच से संपर्क करें. अगर बैंक बंद हो गया है या फिर छुट्टी का दिन है तो बैंक के कस्टमर केयर पर कॉल करें. आपकी शिकायत दर्ज की जाएगी. बैंक को इसके लिए एक सप्ताह का समय मिलेगा.

ट्रांजैक्शन स्लिप को रखें पास

फेल होने वाले ट्रांजैक्शन को प्रूफ करने के लिए आप ट्रांजैक्शन स्लिप को हमेशा साथ रखें. अगर ट्रांजेक्‍शन स्लिप नहीं निकली तो आप बैंक स्‍टेटमेंट दे सकते हैं. ब्रांच में लिखित शिकायत करें और ट्रांजैक्शन स्लिप की फोटोकॉपी को अटैच करें. ट्रांजैक्शन स्लिप इसलिए जरूरी है क्योंकि इसमें ATM की ID, लोकेशन, समय और बैंक की तरफ से रिस्पॉन्स कोड आदि प्रिंट होता है.

एक हफ्ते में नहीं मिला पैसा तो रोजाना लगेगा 100 रुपए का फाइन

एचडीएफसी बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आरबीआई की अगर बैंक ऐसा नहीं करते हैं तो उनको रोज के हिसाब 100 रुपए फाइन देना होगा. गाइडलाइंस के अनुसार बैंकों को एक हफ्ते के अंदर पैसा लौटाना होगा. शिकायत का हल नहीं निकलने पर एक हफ्ते के बाद आप बैंकिंग लोकपाल से संपर्क कर सकते हैं.

अकाउंट में एक दिन में आ जाएगा पैसा

अधिकारी ने बताया कि अगर कस्टमर अपने बैंक के एटीएम से पैसा निकालता है और किसी वजह से एटीएम से पैसा नहीं निकलता है तो 24 घंटे का इंतजार करना चाहिए. बैंक अपनी तरफ से हुई गलती पर एक दिन में अकाउंट में पैसा क्रेडिट कर देगा.

अगर मामला दूसरे बैंक के एटीएम में हुआ है तो आपको एक बात का ध्यान रखना होगा कि कई बार एटीएम मशीन से पैसा निकलता नहीं हैं लेकिन मशीन की लॉग बुक में पैसा डेबिट होना दर्ज हो जाता है. अगर ऐसा कुछ होता है तो आपको नुकसान उठाना पड़ेगा क्योंकि दूसरा बैंक पैसे देने से मना कर सकता है.

बैंक कर सकते हैं सीसीटीवी फुटेज की जांच

कई बार बैंक एटीएम में लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच करते हैं. इसके लिए बैंक जिसके एटीएम में ऐसा हुआ है, आपको और आपके बैंक के अधिकारियों के समक्ष पूरी फुटेज को देखते हैं. अगर फुटेज में पुष्टि हो जाती है कि पैसा नहीं निकला है तो बैंक आपको फाइन के साथ डेबिट हुआ पूरा पैसा वापस करेगा.

ATM यूज करते वक्त रहें अलर्ट

एटीएम इस्तेमाल करते वक्त सुनिश्चित करें कि आपके आस-पास कोई दूसरा शख्स न हो जो आपका पासवर्ड देख ले. ट्रांजैक्शन में मुश्किल होती दिखे तो उसे कैंसल करना
न भूलें. किसी अंजान शख्स की मदद बिल्कुल भी न लें.