11 देशों से होकर गुजरने वाली, ये है दुनिया की दूसरी सबसे लंबी और खूबसूरत नदी

लाइव सिटीज डेस्क : दुनिया में कई नदियां हैं जो अपनी खूबसूरती और लंबाई की वजह से जाने जाते हैं. कुछ नदी को हमारे भारत में पूजा भी जाता है. लेकिन हम यहां एक ऐसी नदी के बारे में आपको बताने जा रहे हैं जो अपनी लंबाई की वजह से जानी जाती है. ये नदी कोई साधारण नदी नहीं है. ये 11 देशों से होकर गुजरती है और इसे सबसे खूबसूरत नदी भी माना जाता है.

ये नदी अफ्रीका महाद्वीप में बहती है

दरअसल, ये नदी अफ्रीका महाद्वीप में बहती है और करीब 11 देशों से होकर गुजरती है. इसकी लंबाई की वजह से इसे दुनिया की दूसरी सबसे लंबी नदी माना गया है. इस नदी के बारे में इतना ही नहीं और भी कई सारी बातें हैं जिसे हम आपको आज बताने वाले हैं. तो आइए जानते हैं कि इस नदी में और क्या है खास.

विश्व की सबसे लंबी दूसरी नदी

नॉर्थ-ईस्ट अफ्रीका महाद्वीप में बहने वाली ये नदी विश्व की सबसे लंबी दूसरी नदी है. हालाकिं इसकी लंबाई अमेजन नदी से ज्यादा है लेकिन उस नदी की फैलाव ज्यादा होने के कारण उसे ही सबसे लंबी नदी माना जाता है.

6,853 कि.मी लंबी है ये नदी

6,853 कि.मी लंबी ये नदी दूसरे सबसे बडे महाद्वीप की सबसे बड़ी झील विक्टोरिया से निकलती हुई सहारा मरुस्थल के पूर्वी भाग को पार करके भूमध्यसागर में गिरती है.

नदी के आस-पास बहुत से खूबसूरत और ऐतिहासिक नगर बने हुए हैं

11 देशों से होकर गुजरने वाली इस नदी के आस-पास बहुत से खूबसूरत और ऐतिहासिक नगर बने हुए हैं. विक्टोरिया झील से शुरू होने वाली यह नदी सफेद नील और नीली नील के नाम से जानी जाती है. मिस्र की भाषा में नील को इतेरु भी कहा जाता है. इस नदी के आस-पास के गांव इस नदी को तोफहा मानते हैं.

मिस्र-अफ्रीका के कई प्राचीन और आधुनिक शहर नील नदी के किनारे पर बसे हैं

मिस्र और अफ्रीका के कई प्राचीन और आधुनिक शहर नील नदी के किनारे पर बसे हुए हैं. सिंतबर महीने में इसका जलस्तर बढ़ने के कारण बाढ़ भी आ जाती है, जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है.

इसके पास की जमीन रेतीली होने के कारण यहां खेती भी नहीं की जा सकती है. इसके बावजूद भी लोग इसके किनारे रहना ही पसंद करते हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*