छपरा : लापरवाह दर्जनों डीडीओ पर लटकी कार्रवाई की तलवार

छपरा (चन्द्र प्रकाश राज): डीएम के निर्देश तथा बार-बार स्मारपत्र देने के बावजूद निकासी एवं व्ययन पदाधिकारियों द्वारा खुद या अपने अधीनस्थ पदाधिकारी एवं कर्मियों की चल एवं अचल संपत्ति तथा दायित्वों का विवरण जमा नहीं करने को जिला प्रशासन ने गंभीरता से लिया है. डीएम हरिहर प्रसाद ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि ऐसे विभाग के पदाधिकारी यदि 24 घंटे के अंदर अपने अधीनस्थ पदाधिकारी एवं कर्मचारियों की चल-अचल संपत्ति एवं दायित्वों का विवरण जमा नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जायेगी. पूर्व में डीएम ने 31 जनवरी, 2018 तक ही संपत्ति का ब्योरा समाहरणालय स्थित कोषांग में जमा कराने का निर्देश दिया था.

डीएम ने बताया कि सरकार की ओर से चल-अचल संपत्ति एवं दायित्वों का विवरण ससमय जिला के वेबसाइट पर अपलोड करने हेतु लगातार स्मारपत्र प्राप्त हो रहे हैं. बावजूद कई विभागों के पदाधिकारी इसके प्रति उदासीन हैं.

इन कार्यालयों के डीडीओ हैं कार्रवाई की रडार पर

चल एवं अचल संपत्ति का विवरण जमा नहीं करने को जिला प्रशासन गंभीर नगर निगम छपरा, नगर पंचायत रिविलगंज, मढ़ौरा एवं परसा बाजार, रामजयपाल कॉलेज छपरा, निबंधन कार्यालय मढ़ौरा, जिला बागवानी कार्यालय, सारण प्रमंडल उप श्रम आयुक्त, जिला न्यायिक सेवा प्राधिकरण, प्रखंड कार्यालय नगरा, जिला परिवहन कार्यालय, संयुक्त आयुक्त सह सचिव, क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय, जिला बाल विकास परियोजना कार्यालय, सहायक निदेशक जिला सुरक्षा सामाजिक कोषांग, उप निदेशक राजभाषा सारण प्रमंडल छपरा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जलालपुर, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तरैया, रामचरण उच्च विद्यालय नरांव, सर्वोदय उच्च माध्यमिक विद्यालय हरिनगर, लोकमान्य उवि सह इंटर कॉलेज डुमरसन बंगरा, उच्च विद्यालय काजीपुर, उच्च विद्यालय महुली चकहन, उच्च विद्यालय अतरसन, उच्च विद्यालय सह इंटर कॉलेज अमनौर, कल्याण उवि रिविलगंज, उच्च विद्यालय चैनवा, गुरूकुल उवि हरपुर जान, उवि कोल्हुआ, उच्च विद्यालय रायपुरा, खेदन प्रसाद उवि शिल्हौड़ी, उवि नैनी, बीइओ बनियापुर भाग एक तथा दो, मशरक एक, मढ़ौरा, जलालपुर, गड़खा तथा लहलादपुर, राजकीय बुनियादी विद्यालय करचौलिया मशरक, आरबी उवि परसौना, उवि मानसर, राजकीय मध्य विद्यालय दौलतगंज, कन्या मध्य विद्यालय बनियापुर, मध्य विद्यालय लहलादपुर, प्रोजेक्ट कन्या उवि हरपुर कराह, दुर्गा उवि दरियापुर, उवि सह इंटर कॉलेज परसागढ़, आदर्श उवि बरूआ, विद्यालय निरीक्षक छपरा नगर, जादव क्षत्रि उवि खोदाइबाग, मवि कन्हौली, कन्या उवि पहारीचक शामिल हैं.

#AADHAAR को मोबाइल-PAN-बैंक से लिंक करना अभी फिलहाल ‘जरूरी’ नहीं है, ऐसा #सुप्रीमकोर्ट ने कह दिया है, क्या है यह पूरा विवाद, #LiveCities की इस वीडियो रिपोर्ट में बता रहे हैं अंजनी पांडेय…

डीएम के इस कड़े रुख के बाद लापरवाह डीडीओ एवं पदाधिकारियों में कार्रवाई को लेकर भय व्याप्त है. कार्रवाई की भनक लगते ही विभिन्न विभागों के निकासी एवं व्ययन पदाधिकारी खुद या अपने अधीनस्थ अधिकारियों की संपत्ति एवं दायित्वों का ब्योरा देने के लिए परेशान दिखे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*