पिता को बाइक पर ले जाना पड़ा बेटी का शव, अस्पताल वालों ने नहीं दिया एंबुलेंस

छपरा, शौचालय टंकी, मौत, एक्सिडेंट, छपरा न्यूज़, हिन्दी न्यूज़, बिहार समाचार, बिहार हिन्दी समाचार, न्यूज़

छपरा: बड़ी खबर आ रही है छपरा से. अभी हाल ही में पूर्णिया में चार मजदूरों की मौत शौचालय की टंकी में दम घुटने से हो गयी थी. यह मामला तो अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि आज फिर एक मामला सामने आया है. जहां बिहार के छपरा जिले में शौचालय की टंकी मे डूबने से चार साल की एक बच्ची की मौत हो गयी है. इसके बाद अस्पताल में शव को ले जाने के लिए परिजनों को शव वाहन या एंबुलेंस नहीं मिला. इस कारण पिता अपनी बेटी के शव को कंधे पर लेकर घूमता रहा, फिर बाइक से घर ले गया.

शौचालय की टंकी में गिरी मासूम

जानकारी के अनुसार छपरा नगर के छोटा तेलपा में एक नवनिर्मित मकान की खुली शौचालय टंकी में चार साल की एक बच्‍ची गिर गई. बताया जाता है कि खेलने के क्रम में बच्‍ची संतुलन बिगड़ने के कारण टंकी में जा गिरी. टंकी में पानी भरा था, जिसमें वह डूबने लगी. जब तक लोग उसे निकालते, विलंब हो चुका था.

यह भी पढ़ें:

बिहार के छपरा में तेज आंधी ने मचाई तबाही, 2 महिलाओं की मौत

मौत के बाद नहीं मिला शव वाहन

परिजन व आसपास के लोग बच्‍ची को निकालकर छपरा सदर अस्‍पताल ले गए, जहां उसकी मौत हो गई. बच्‍ची की मौत के बाद अस्‍पताल प्रबंधन ने परिजनों को शव वाहन उपलब्‍ध नहीं कराया. फिर, शोकग्रस्त पिता बेटी की बॉडी को कंधे पर लादकर शव वाहन या एंबुलेंस के लिए अस्पताल परिसर में इधर उधर भटकता रहा. थक हारकर पिता बाइक से बॉडी को घर ले गया.

सिविल सर्जन ने दिए जांच के आदेश 
घटना को लेकर अस्‍पताल प्रबंधन ने सफाई दी कि मृत बच्‍ची के परिजनों ने शव वाहन की मांग ही नहीं की थी. इस बीच सिविल सर्जन ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं.

देखें विडियो:

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*