नीलगाय की गोली मारकर हत्या, 12 गिरफ्तार

छपरा/अमनौर : अमनौर थाना क्षेत्र के ढोरलाही कैथल गांव के डीह टोला के पास  एक समुदाय के लोगों ने चमड़े एवं मांस तस्करी के लिए नीलगाय की गोली मार कर हत्या कर दी. फिर मौके पर ही उक्त नील गाय की चमड़ी निकालकर मांस के टुकड़े करने लगे. ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों को गिरफ्तार किया है.

मिली जानकारी के अनुसार नीलगाय पर गोली चलने की आवाज सुनकर स्थानीय लोग जब घटनास्थल पर पहुंचे तो हत्यारों को मांस के टुकड़े करते देख भड़क उठे. इसपर नीलगाय के हत्यारों ने बंदूक व अन्य धारदार हथियार दिखाते हुए लोगों को भगा दिया. इस पर ग्रामीणों ने शोर मचा कर गांव से और लोगों को बुलाया और अमनौर पुलिस को इसकी जानकारी दी. सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंचकर हत्यारों को घेरा लिया. सूचना मिलते ही अमनौर पुलिस मौके पर पहुंची और वहां से 12 लोगों को हिरासत में लिया. पुलिस ने मृत नीलगाय की चमड़ी व मांस सहित मांस काटने वाला लोहे के हथियार, दो बाइक, आधा दर्जन साइकिल बरामद किया. हालांकि पुलिस मौके से बंदूक बरामद नहीं कर पाई.nilgay-murder

वन क्षेत्र पदाधिकारी राजेंद्र प्रसाद निराला ने बताया कि इस मामले में वन प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 के धारा 9 के उल्लंघन के मामले में आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी जायेगी. वहीं पशु चिकित्सक डॉ. आशीष कुमार सिंह ने जब्त मांस के टुकड़े का सैंपल फोरेंसिक जांच के लिए पुलिस को सौंपा.  समाचार प्रेषण तक मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं हो पाई थी. मालूम हो कि गत वर्ष उसी गांव में नीलगाय की शिकार में चूक होने पर गोली ढोरलाही गांव के रामजीवन राम को लग गई थी जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई थी. जिसको लेकर जमकर बवाल मचा था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*