सॉल्वर गैंग के सदस्य निकले विंध्याचल अपार्टमेंट से पकड़े गए 6 लोग

पटना/अमित जायसवाल : बुद्धा कॉलोनी थाना क्षेत्र के किराना गली स्थित विंध्याचल अपार्टमेंट में शुक्रवार को छापेमारी कर उठाये गये छह संदिग्धों की पहचान कर ली गई है़. पकड़े गये सभी लोग सरकारी नौकरी दिलाने व मेडिकल आदि प्रतियोगी परीक्षाओं के नाम पर ठगी करने वाले सॉल्वर गैंग के सक्रिय सदस्य हैं. जिसका पुलिस ने शनिवार की रात को खुलासा किया.

पकड़े गये गैंग के छह सदस्यों में सौरभ सुमन, रमेश, उज्जवल उर्फ गजनी, प्रशांत कुमार व दो अन्य शामिल हैं. इसमें सौरभ भागलपुर का रहने वाला है़. हालांकि गिरोह का मास्टरमाइंड अभी फरार है़. पुलिस ने इन ठगों के पास से कैश, अभ्यर्थियों की फर्जी फोटो लगे 100 से अधिक प्रवेश पत्र, फर्जी आधार कार्ड, लैपटाप, सीपीयू, कंप्यूटर समेत कई महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद की है़. बुद्धा कॉलोनी थाना की ने पुलिस ने एफआइआर दर्ज की है.



साथ ही इस मामले में उनकी जांच अब भी जारी है़. इन शातिरों ने विंध्याचल अपार्टमेंट के फ्लैट में ही अपना ऑफिस बना रखा था. यहीं से बैठकर दिल्ली, मुंबई, राजस्थान सहित देश के कई शहरों में अपने गैंग को ऑपरेट कर रहे थे.

जब पटना पुलिस की टीम ने इन्हें पकड़ा था तो खबर सामने आई थी कि ये सभी लोग सीपीडब्ल्यूडी के ठेकेदारों से रंगदारी मांगने वाले हैं. उन्हें धमकी देने वाले गैंग के सदस्य हैं. लेकिन अब यह मामला बिल्कुल ही अलग हो गया है.