सेनेटाइजर के नाम पर दिल्ली से पटना आती है शराब की खेप, रिसीवर और ड्राइवर गिरफ्तार

लाइव सिटीज, पटना/अमित जायसवाल : कुरियर कंपनी के साथ मिलकर शराब का सिंडिकेट चलाने वाले एक बड़े मामले का खुलासा हुआ है. यह खेल दिल्ली से लेकर पटना और फिर उत्तर बिहार के कई जिलों तक चल रहा था. वो भी सेनेटाइजर के नाम पर. जी हां, जब ये मामला सामने आया तो हर किसी के होश उड़ गए. सेफ एक्सप्रेस और गट्टी नाम की दो नामी कुरियर कंपनी है. इस खेल में दोनों ही कुरियर कंपनी के कई स्टाफ भी मिले हुए हैं. लेकिन इसका असली खिलाड़ी बिहार के ही फारबिसगंज का रहने वाला रौनक है. जो वर्तमान में दिल्ली में रह रहा है.

बिहार में अवैध रूप से शराब की सप्लाई करने के लिए इसने एक बड़ा सिंडिकेट बना रखा है. कुरियर कंपनी के जरिए ये सेनेटाइजर के नाम पर शराब पैक कर उसे पटना भेजा करता था. पैक किया गया माल सही है, यह विश्वास दिलाने के लिए वो जीएसटी भी देता था. उसकी रसीद कटवाता था. पटना के करमलीचक इलाके में दोनों ही कुरियर कंपनी का गोडाउन है. यहां शराब खेप को आते ही पूर्णिया के पटवा टोली का अभिषेक रिसीव करता था. फिर छोटी-छोटी गाड़ियों के जरिए शराब की खेप को नवगछिया, सुपौल, त्रिवेणीगंज और कटिहार भेजा जाता था.



इस मामले की जानकारी मिलते ही सोमवार को मद्य निषेध और मालसलामी थाना की पुलिस टीम ने मिलकर कार्रवाई की. दोनों ही कुरियर कंपनी के गोडाउन में छापेमारी की गई. रंगे हाथ अभिषेक और ड्राइवर मोहन सिंह को गिरफ्तार किया गया. 19 पेटी में रखा हुआ 169.59 लीटर कीमती शराब जब्त किया गया. यह खेल पिछले एक साल से चल रहा था. इस मामले में मालसलामी थाना में 9 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.