पटना में बड़ी चोरी : ऑफिस का लॉक तोड़ साढ़े 7 लाख कैश उड़ा ले गए शातिर

लाइव सिटीज, पटना/अमित जायसवाल : लॉकडाउन में राजधानी के अंदर चोरी की बड़ी वारदात हुई है. शातिर चोरों ने ऑफिस का लॉक तोड़कर साढ़े 7 लाख रुपया कैश उड़ा लिया. मामला सामने आने के बाद पुलिस के भी होश उड़ गए. कैश चोरी का यह मामला कोतवाली थाना के तहत पटना के बोरिंग रोड इलाके की है. गोरखनाथ एंड लीला अपार्टमेंट में आर्यभट्ट कंप्यूटर्स की ऑफिस है. शनिवार को ऑफिस के मेन गेट से लेकर अंदर में ड्रॉवर और आलमिरा का लॉक टूटा हुआ मिला. इन्हीें जगहों पर कैश रखा हुआ था.

बोरिंग रोड के ही मांटेशरी गली के रहने वाले नागेंद्र सिंह आर्यभट्ट कंप्यूटर्स के मालिक हैं. शुक्रवार की रात 8 बजे ये ऑफिस को बंद करके अपने घर चले गए थे. शनिवार की सुबह ऑफिस खोलने के लिए मैनेजर ब्रज भूषण पांडेय पहुंचे. मेन गेट का टूटा हुआ लॉक देखकर मैनेजर ने मालिक को कॉल किया. चंद मिनटों में नागेंद्र सिंह अपने ऑफिस पहुंचे. अंदर जाने के बाद ऑफिस का नजारा देख उनके होश उड़ गए. ड्रॉवर और आलमिरा का लॉक टूटा हुआ मिला. नागेंद्र सिंह के अनुसार ओडिशा में उनके कंपनी का प्रोजेक्ट चल रहा है.



सुंदरगढ़ में कोविड-19 के लिए कॉल सेंटर बनाने का कांट्रैक्ट ओडिशा सरकार से मिला है. उसी काम के लिए रुपए ओडिशा भेजना था. इसके लिए 11, 12 और 13 मई को कैश लाकर ऑफिस में रखा गया था. नागेंद्र की मानें तो उनके ऑफिस से सिर्फ कैश की चोरी हुई है. इसके अलावा कोई दूसरा सामान चोरी नहीं हुआ है.

आश्चर्य वाली बात यह है कि जिस ऑफिस में स्किल डेवलपमेंट और कॉल सेंटर की ट्रेनिंग दी जाती है, वहां एक भी सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा हुआ था. कैश चोरी के इस वारदात की जानकारी कोतवाली थाना को दी गई है. थानेदार रामशंकर सिंह और उनकी टीम चोरी के इस मामले की पड़ताल में जुटे हैं.