सुप्रीम कोर्ट में बिहार सरकार ने दाखिल किया हलफनामा, रिया चक्रवर्ती का एकमात्र मकसद था रुपयों को हड़पना

पटना/अमित जायसवाल : बिहार सरकार ने एक्टर सुशांत सिंह राजपूत मामले में शुक्रवार को अपना हलफनामा सुप्रीम कोर्ट में जमा कर दिया है. सूत्रों के जरिए जो जानकरी मिली है, उसके मुताबिक अपने जमा किये गए हलफनामा में बिहार सरकार ने स्पष्ट किया है कि रिया चक्रवर्ती का एकमात्र मकसद सुशांत सिंह राजपूत के रुपयों को हड़पना था. इस साजिश में रिया के साथ ही उसका परिवार भी पूरी तरह से शामिल है. हलफनामा में बिहार सरकार ने साफ तौर पर कहा है कि षड्यंत्र के तहत ही रिया ने अपने परिवार के साथ मिलकर सुशांत सिंह राजपूत के मानसिक बीमारी की गलत स्क्रिप्ट तैयार की. मानसिक बीमारी की झूठी तस्वीर तैयार की.

– साजिश के तहत कॉन्टैक्ट में आये.
बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में जो हलफनामा दायर किया, उसके अनुसार रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार पर बेहद गंभीर आरोप लगे हैं. सूत्र बताते हैं कि हलफनामा से पता चला है कि रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार ने एक साजिश के तहत सुशांत सिंह राजपूत के साथ अपना कॉन्टैक्ट बनाया. जिसका मकसद सुशांत के करोड़ों रुपए हड़पना और बाद में उनकी मानसिक बीमारी की झूठी तस्वीर पेश करना था.



– देश के कई हिस्सों में बिखरे हैं सुराग
बिहार पुलिस की टीम ने मुंबई जाकर जो जांच की, उस दौरान कई ठोस सबूत जुटाए. बिहार पुलिस की जांच और पटना के सीनियर एसपी उपेंद्र कुमार शर्मा की तरफ से राज्य सरकार को सौंपे गए रिपोर्ट के आधार पर ही सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया गया है. रिया चक्रवर्ती  सुशांत सिंह राजपूत को अपने घर ले गई और उन्हें दवा का ओवरडोज देना शुरू कर दिया था. बिहार पुलिस का कहना है कि उसे मुंबई पुलिस के असहयोग के बावजूद जांच में कई सुराग पाए हैं.  सुप्रीम कोर्ट को बताया गया है कि सुराग भारत में कई स्थानों पर बिखरे हुए हैं. इसलिए सुशांत की रहस्यमय आत्महत्या की मौत के लिए सीबीआई की जांच जरूरी है.