कैमूर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, अवैध हथियार एवं खोखा के साथ मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन, 4 गिरफ्तार

कैमूर/भभुआ(ब्रजेश दुबे): कैमूर जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र से पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पुलिस के द्वारा विशेष चेकिंग अभियान के तहत एक मोटरसाइकिल से तीन को अवैध हथियार एवं खोखा के साथ गिरफ्तार किया गया. इनके निशानदेही पर अवैध हथियार बनाने वाले एक कारीगर को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया. साथ ही उसके यहां से अवैध हथियार बनाने में प्रयुक्त होने वाले सामान को भी पुलिस ने बरामद किया है.

बताते चलें कि कैमूर जिले में पुलिस अधीक्षक दिलनवाज अहमद के निर्देश पर विशेष चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है. इसके तहत चैनपुर थाना क्षेत्र के अवखरा मोड़ के पास चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था. तभी एक मोटरसाइकिल पर सवार तीन लोग आते हुए दिखाई दिए. जिन्हें पुलिस के द्वारा रुकने का इशारा किया गया तो ये लोग तेज रफ्तार से भागने लगे.



इसके बाद पुलिस ने बाइक सवार तीनों अपराधियों के काफी दूर तक पीछा करके पकड़ लिया. इसके बाद इनकी तलाशी ली गई तो इनके पास से एक राइफल एवं दो खोखा बरामद किया गया. गिरफ्तार आरोपी जालिम राम, संजय खरवार एवं अनिल खरवार तीनों भभुआ थाना के बताए जा रहे हैं.

पूछताछ के क्रम में इन लोगों ने बताया कि चैनपुर थाना क्षेत्र के तेनौरा गांव निवासी रामदुलार शर्मा के यहां से राइफल लेकर आ रहे हैं. इनके निशानदेही पर पुलिस के द्वारा रामदुलार शर्मा के घर पर छापेमारी किया गया तो उसके यहां से दो देसी कट्टा एवं 6 अर्ध निर्मित कट्टा चार जिंदा कारतूस एवं एक खोखा बरामद किया गया. साथ ही रामदुलार शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया.

सभी को गिरफ्तार कर पूछताछ की गई तो पता चला कि यह तीनों पकड़े गए अपराधियों में से एक पूर्व में भी हथियार बनाने व सप्लाई करने के मामले में तीन बार जेल जा चुका है. हालांकि यह अपराधी कई वर्षों पूर्व जेल जा चुका है लेकिन जेल से छूटने के बाद लगातार सक्रिय रहता है अब सबसे अहम सवाल यह है कि अपराधियों को नहीं जेल का भय है और ना ही पुलिस का इसलिए यह जब भी जेल से अपराधी छूटता है तो अपने मिशन में सक्रिय हो जाते है. पकड़े गए अपराधियों में से जालिम राम आर्म्स एक्ट तथा मारपीट के आरोप में पूर्व में भी जेल जा चुका है.

क्या कहते हैं कैमूर एसपी दिलनवाज अहमद :

एसपी ने बताया कि यह कैमुर पुलिस के लिए बहुत बड़ी कामयाबी है जो अपराधियों के मसूबो पर पुलिस ने पानी फेर दिया है.