हथियार के धंधेबाजों के खिलाफ हुई बड़ी कार्रवाई, खुशरुपुर और खगड़िया में मिली गन फैक्ट्री

लाइव सिटीज, पटना/अमित जायसवाल : अवैध रूप से हथियार बनाने और इसकी सप्लाई करने वाले धंधेबाजों के खिलाफ मंगलवार को बड़ी कार्रवाई हुई है. एक साथ दो जिलों में अवैध रूप से चल रहे मिनी गन फैक्ट्री का खुलासा हुआ है. जो पटना के खुशरुपुर और खगड़िया जिले में चल रही थी. बिहार एसटीएफ की टीम को इस बारे में कुछ सूचनाएं मिली थी. जिसके बाद एसटीएफ की टीम ने अपने स्तर पर कंफर्म किया. एक साथ दो ऑपरेश्न चले.

पटना पुलिस के साथ मिलकर एसटीएफ की टीम ने सबसे पहले खशुरुपुर के ईशोपुर में छापेमारी की. फैक्ट्री को हैंडपम्प बनाने के नाम पर खोला गया था. लेकिन जब छापेमारी हुई तो वहां हैंडपम्प की जगह अवैध रूप से पिस्टल बनाए जा रहे थे. टीम ने फैक्ट्री के अंदर से 21 सेट अनसेट पिस्टल बरामद किया है. साथ ही एक लेथ मशीन, तीन मिलींग मशीन, एक ड्रील मशीन और काफी सारा रॉ मटेरियल बरामद किया है.



अवैध रूप से हथियार बनाने में लगे 4 लोगों मो. मुनव्वर, मो. इमरान, मो. सोनू और मो. शकील को गिरफ्तार किया है. ये सभी मुंगेर के कासिम बाजार थाना के तहत हजरतगंज बाड़ा के रहने वाले हैं. जांच और पूछताछ में पता चला कि इस फैक्ट्री का मालिक भी मुंगेर का रहने वाला है.


वहीं, दूसरी तरफ एसटीएफ की टीम ने खगड़िया के मुफस्सिल इलाके में चल रहे एक मिनी गन फैक्ट्री में छापेमारी की. वहां से 28 सेट अनसेट पिस्टल, दो मिलींग मशीन, एक लेथ मशीन, एक ड्रील मशीन और काफी सारा रॉ मटेरियल बरामद किया गया है. जिस वक्त टीम ने वहां छापेमारी की, उस दौरान 6 लोग अवैध रूप से पिस्टल बनाने के काम लगे थे. इनमें संतोष कुमार शर्मा, मो. अरमान, मोना, मो. मिराज, मो. सलीम और अनील कुमार शर्मा शामिल हैं. इन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है.