लाइव सिटीज, पटना/अमित जायसवाल : लाखों रुपए ठगने वाला एक शातिर पटना पुलिस के हाथ लगा है. पिछले कई महीने से पटना पुलिस को इस शातिर की तलाश थी. पकड़े गए शातिर का नाम राम पुकार मंडल है. ये सहरसा जिले के दाहुमरार टोला का रहने वाला है. इसके उपर 75 लाख रुपए की ठगी करने का आरोप है. पटना के कोतवाली थाना में राम पुकार मंडल के खिलाफ पिछले साल मार्च महीने में ही एफआईआर दर्ज कराया गया था.

कोर्ट ने भी इस शातिर की गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया था. तब से पुलिस को इसकी तलाश थी. मंगलवार को राम पुकार मंडल अपने किसी काम से पटना आया हुआ था. इस बात की जानकारी मिलते ही कोतवाली थानेदार राम शंकर और उनकी टीम एक्टिव हो गई. पुलिस टीम ने फ्रेजर रोड में छापेमारी की और फिर इसे गिरफ्तार कर लिया. पुलिस के अनुसार राम पुकार मंडल ने राइस मिल डेवलप करने के नाम पर 75 लाख रुपए लिए थे.

बाउंस कर गया था 5 चेक

फ्रेजर रोड स्थित महाराज कामेश्वर कॉम्प्लेक्स में मेसर्स पाटलिपुत्रा हाइटेक इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की ऑफिस है. निरंजन कुमार इस कंपनी के डायरेक्टर हैं. निरंजन और राम पुकार मंडल काफी समय से एक-दूसरे को जानते थे. राइस मिल के डेवलपमेंट के लिए निरंजन की कंपनी से ही राम पुकार मंडल ने 75 लाख रुपए लिए थे.

पुलिस की मानें तो जब रुपए लौटाने की बारी आई तो राम पुकार मंडल ने अलग-अलग अमाउंट के 5 चेक निरजंन को दिए थे. बैंक अकाउंट में रुपए नहीं होने की वजह से एक-एक कर सारे चेक बाउंस कर गए. इसके बाद ही शातिर कोतवाली थाना में एफआईआर दर्ज कराई गई थी. कोतवाली थाना में 26 मार्च 2019 को धारा 406, 42 और 120 बी आईपीसी व 138 एन आई एक्ट के तहत कांड संख्या 252 दर्ज किया गया था.