युवक की मौत के बाद भड़के लोग उतरे सड़क पर, आरोपी के घर की तोड़फोड़

लाइव सिटीज, पटना/अमित जायसवाल : जिस अजय यादव को कॉल कर बुलाया गया था, जिसे उसके जानने वालों ने गोली मारी थी. उसकी मौत बुधवार की देर रात को ही हॉस्पिटल में हो गई. अजय की हत्या की बात सामने आते ही बवाल मच गया. इस कांड की वजह से लोग गुस्से में आ गए. एक आरोपी के घर तोड़फोड़ कर दी. उग्र भीड़ ने घर के ऊपर पथराव कर दिया. साथ ही गुस्साए लोग सड़क पर उतर आये. काफी देर तक पटना-बख्तियारपुर फोर लेन को जगनपुरा के पास जाम रखा. हाइवे पर ही लोगों ने हंगामा किया. पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की. यह सारा मामला पटना के रामकृष्णा नगर थाना इलाके का है.

हंगामा और रोड जाम की जानकारी मिलते ही मौके पर रामकृष्णा नगर थाना सहित आसपास के कई थानों की पुलिस टीम पहुंची. पुलिस ने रोड जाम कर रहे लोगों को किसी तरह से समझाया और उन्हें वहां से हटाया. तब जाकर हाइवे पर गाड़ियों का परिचालन शुरू हुआ. हत्या के इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों राकेश और बबलू के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की है. वारदात के बाद से ही दोनों फरार हैं. इनका मोबाइल स्विच ऑफ है. घर के लोग भी गायब हैं.



पटना पुलिस के अनुसार रुपयों के लेनदेन को लेकर हुए विवाद में वारदात को अंजाम दिया गया है. गौरतलब है कि अजय यादव को बुधवार की देर शाम मोबाइल पर कॉल कर बुलाया गया था. चारकोल नाम की जगह पर पहुँचते ही उसे गोली मार दी गई थी. इसमें राकेश और बबलू का नाम सामने आया था. उसके बाद दोनों वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए. गोली की आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे लोगों ने ही घायल अजय को हॉस्पिटल पहुंचाया था. जहां इलाज के दौरान देर रात को उसकी मौत हो गई थी.