शादी के डेढ़ साल बाद घर लौटा प्रेमी युगल, पंचायत ने दोनों को गांव से बाहर कर दिया था

couple

दरभंगा : दरभंगा सदर थाने के लोआम गांव में एक प्रेमी युगल को शादी करनी महंगी पड़ी. वाक्या करीब डेढ़ साल पूर्व का है. लड़की पक्ष के दबाव पर पंचायत ने तालिबानी फरमान सुनाते हुए प्रेमी युगल को गांव से निकाल दिया और प्रेमी के घर में ताला जड़ दिया. साथ ही उस पर दस हजार का जुर्माना भी लगा दिया. डर के मारे प्रेमी युगल ने गांव छोड़ दिया. दोनों परदेश चल गए.

इस दौरान उसे एक बच्ची हुई. दो दिन पूर्व दोनों घर लौटे. सुलह नहीं बनते देख प्रेमी ने घर में प्रवेश के लिए एएसपी दिलनवाज अहमद से संंपर्क कर उन्हें आवेदन दिया. एएसपी के निर्देश पर सदर थानाध्यक्ष रविशंकर प्रसाद ने गांव वालों के विरोध के बावजूद मियां- बीबी को घर पर कब्जा दिलवाया. साथ ही गांव वालों को हिदायत दी कि दोनों को परेशान किया गया तो कार्रवाई होगी.

बताया जाता है लोआम गांव के एक लड़का व लड़की के बीच प्रेम संबंध स्थापित हो गया. लड़की ने परिवार का विरोध करते हुए अपने प्रेमी से शादी रचा ली. यह लड़की के परिवार वालों को नागवार गुजारा. अपनी दबंगता के बल पर लड़की पक्ष ने पंचायत बुलाई. पंचायत ने तालिबानी फरमान जारी करते हुए प्रेमी युगल को गांव से बाहर कर दिया. साथ ही प्रेमी के घर में ताला जड़ दिया.

एएसपी अहमद ने बताया कि दोनों बालिग हैं. फ़िलहाल दोनों को पुलिस ने संरक्षण दिया हुआ है. पुलिस सारे मामले की छानबीन कर रही है. और कोशिश कर रही है कि दोनों के परिजनों को समझा कर उन्हें घर भेज दिया है.

यह भी पढ़ें – स्मार्ट बनिए आ रही DIWALI में, अपने Love Bird को दीजिए Diamond Jewelry
अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरी, नया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स
PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN
मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी
RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू
चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*