स्वचछ भारत निर्माणः सफाईकर्मी बीमारी को दे रहे आमंत्रण

दरभंगा : स्वच्छ भारत निर्माण को लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित दर्जनों नेताओं को साफ–सड़कों पर झाड़ू लगाते हुए कई बार देखा जा चुका है. कई नेताओं ने तो स्वच्छ भारत के नाम पर सूट- बूट में हाथ में झाड़ू लेकर सड़क पर फोटो भी खिचवाते मीडिया में कई बार नजर आ चुके हैं.

मामला है दरभंगा नगर निगम सफाईकर्मीयों का जो बिना किसी सुरक्षा के ही शहर में गंदगी के उठाव में लगे रहते हैं. सफाईकर्मी बिनोद पासवान ने बताया कि शहर में कचड़ा उठाने व फेकने के लिए संसाधनों का अभाव तो नहीं है मगर निगम के द्वारा हम लोगों के स्वास्थय की सुरक्षा के प्रति कोई जवाब देही नाम का कोई चीज नहीं है. हम लोग खुले पैर व नंगे बदन कचड़े का उठाव का काम करते हैं जिस ओर निगम मेयर का कोई ध्यान नहीं है. कई बार तो कचड़ा में फेंके इस्तमाल की हुई सूब भी पैरों में चूब जाती है.

dr-sk-prasad-1

खुले पैर व नंगे बदन कचड़ा उठाव से होने वाली बीमारियों के बारे में डीएमसीएच मेडिसीन विभाग के डॉ. एसके प्रसाद ने  बताया कि नंगे पैर व नंगे बदन कचड़ा का उठाव करने के दौरान कई बीमारियां को आमंत्रण दिया जा सकता है. जैसे कि हेपाटाइटिस बी, टिटनेस, एचआईबी, फंगल संक्रमण इत्यादि बीमारियां होने की संभावना बनी रहती है. इसके रोकथाम के लिए सफाई कर्मीयों को पैरों में जूते, नाक में माक्स व हाथ में गलोब्स जरूर लगाना चाहिए. जिस से बीमारियां फैलने की संभावना कम हो जाए. वहीं नगर निगम मेयर गौरी पासवान ने बताया कि कुछ सफाईकर्मीयों को जूते व उनके सुरक्षा संबंधित सामान उपल्बध कराये गये थे मगर कुछ कर्मी इस से वंचित हैं उन्हें भी बहुत जल्द जूते, माक्स इत्यादि सुरक्षा के सामान उपल्बध करा दिया जाएगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*