दरभंगाः कमरों के अभाव में बरामदे में बैठ कर पढ़ाई करने को विवश हैं बच्चे

student
प्रतीकात्मक

दरभंगाः प्राथमिक शिक्षा को गुणवत्तापूर्ण बनाने के लिए सरकार कदम-दर-कदम लगातार प्रयासरत है. बेहतर शिक्षा को लेकर विभाग करोड़ों रुपये खर्च कर रही है, जिससे बच्चों को बेहतर शिक्षा मिल सके, लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद गुणवत्तापूर्ण शिक्षा महज घोषणा भर रह गई है. नगर के प्राथमिक विद्यालय में नामांकित बच्चों के अनुपात में कमरों की संख्या कम होने से इस स्कूल के बच्चे बरामदे में बैठ कर पढ़ाई करने को विवश हैं.

इसकी पड़ताल के तहत राजकीयकृत प्राथमिक विद्यालय जलवारा कन्या उर्दू में प्रभारी प्रघान शिक्षिका समेत तीन शिक्षिका मौजूद थीं. शिक्षिकाएं जहां बच्चों को पढ़ा रही थीं, वहीं प्रघान शिक्षिका कार्यालय प्रकोष्ठ में विद्यालय से संबंधित कामकाज का निष्पादन कर रही थीं. जबकि शिक्षक उदय कुमार महतो के संबंध में निर्वाचन को लेकर प्रखंड कार्यालय में प्रतिनियुक्ति की बात बताई गई. यहां एक शौचालय व एक चापाकल उपलब्ध है. शौचालय जहां ठीक था. वहीं चापाकल खराब पड़ा था.

विद्यालय के पास कुल तीन कमरे हैं. इन तीन कमरों में से एक में कार्यालय तथा दूसरे कमरे में बच्चों के लिए मध्याह्न भोजन बनाया जाता है. शेष एक कमरे में पढ़ाई होती है. चहारदिवारी तथा खेल मैदान का भी यहां अभाव दिखा. स्वच्छता भारत मिशन का असर यहां साफ दिख रहा था.

11 बजे: नामांकित 220 बच्चों में से 189 बच्चों की उपस्थिति पंजी पर दर्शाई गई थी.

11.10 बजे: वर्ग एक से तीन तक के बच्चे संयुक्त रूप से एक कमरे में तथा वर्ग चार तथा पांच के बच्चे बरामदे की जमीन पर घर से लाए बोरे पर संयुक्त रूप से बैठकर पढ़ रहे थे. बच्चे ड्रेस में नहीं थे.

11.15 बजे: रसोईया सदरूल निशा, रूमी तथा संजीदा खातून विद्यालय के वर्ग कक्ष में बनाए गए चूल्हे पर मध्याहृन भोजन बना रही थीं. मेन्यू के अनुसार हरी सब्जी युक्त खिचड़ी व आलू का चोखा बच्चों के लिए बनाया जा रहा था. बच्चों से जब पूछा गया कि खाना नियमित रूप से मिलता है कि नहीं तो कहा कि नियमित रूप से मिलता है. मध्याह्न भोजन से संबंधित चखना पंजी संधारित था ।रसोइया एप्रोन नहीं पहनी थी.

11.30 बजे: मध्याह्न भोजन बनकर तैयार नहीं था

बोले बच्चे

वर्ग दो का छात्र मो. फैयाज आलम ने प्रभारी प्रघान शिक्षिका का नाम इफफ्त जहां बताया. वर्ग तीन की छात्रा मेहजवी परवीन ने देश का नाम जलवारा बताया. वर्ग चार का छात्र मो. आरिश ने सूबे के उपमुख्यमंत्री का नाम सुशील कुमार मोदी बताया. वर्ग पांच की छात्रा सौम्या परवीन ने देश के प्रघानमंत्री का नाम नरेंद्र मोदी बताया.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*