राजद और किसान सभा का धरना, केंद्र पर साधा निशाना

राजद का सामियानें में व किसान सभा का खुले आसमान में धरना

दरभंगा : नोटबंदी को लेकर बुधवार को शहर के पोलो मैदान स्थित धरना स्थल पर दो संगठनों की ओर से धरना का आयोजन किया गया. एक ओर राजद ने नोटबंदी से हो रहे आम जनता की परेशानी को लेकर… तो दूसरी ओर दरभंगा जिला किसान सभा की ओर से नोटबंदी और राज्य सरकार पर धान की सरकारी खरीद अब तक नहीं शुरू करने को लेकर धरना दिया गया.

दोनों संगठनों की ओर से आयोजित धरने में अंतर यही था कि राजद की ओर से आयोजित धरने में राजद के नेताओं व पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए सामियानें व कुर्सियों की भरपूर व्यवस्था की गई थी… जहां राजनेता केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए नोटबंदी से हो रही आम आदमी के परेशानी को लेकर विरोध व्यक्त कर रहे थे. वहीं दूसरी ओर दरभंगा जिला किसान सभा के नेताओं ने खुले आसमान के नीचे जमीन पर बैठकर नोटबंदी सहित धान खरीद शुरू नहीं होने को लेकर विरोध व्यक्त किया. राजद के धरना में मौजूद पूर्व केन्द्रीय मंत्री मो. अली असरफ फातमी ने कहा कि नोटबंदी के 50 दिन लगभग पूरे हो चुके हैं… लेकिन आम जनता को क्या फायदा पहुंचा ? प्रधामंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि था नोटबंदी के 50 दिन के बाद अच्छे दिन आ जाएंगे… और अगर अच्छे दिन नहीं आएंगे तो देश की जनता हमें बीच चौराहे पर बुलाए मैं आने को तैयार हूं.

उनका ये वादा भी पूरा होता नहीं दिखा. मो. फातमी ने कहा कि राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद के कहे मुताबिक पीएम को बीच चौराहे पर आकर जनता को जवाब देनी चाहिए. वहीं राजद विधायक ललित यादव ने कहा कि नोटबंदी से जनता को काफी परेशानी हुई है. 50 दिन हो गए… मगर अभी तक परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही है, जिसका जवाब पीएम को देना होगा. वहीं दूसरी ओर जिला किसान सभा को संबोधित करते हुए सभा के जिला सिचव श्याम भारती ने कहा कि किसानों के लिए धान की सरकारी खरीद अब तक नहीं शुरू हुआ है… जिससे किसानों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

dar1

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*