नोटबंदी के बाद आज आएगी पहली सैलरी, बैंकों और ATM में बढ़ेगी भीड़

लाइवसिटीज डेस्क : नोटबंदी के बाद आज पहली सैलरी लोगों के खातों में आएगी. अब बैंकों में भीड बढ़ जाएगी. लोग अपनी सैलरी निकालने के लिए बैंक जाएंगे. सैलरी को लेकर आरबीआई ने भी तैयारी कर ली है. गौरतलब है कि देशभर में करीब 2 लाख 18 हजार एटीएम हैं. इनमें से 1 लाख 70 हजार एटीएम को अपडेट कर दिया गया है. इन अपडेट एटीएम से आज से नए नोट निकलने शुरू हो जाएंगे. अपडेट किए गए एटीएम से आप 2500 रुपए निकाल सकते हैं. हालांकि सैलरी के कारण अब एटीएम और बैंकों में भीड़ बढ जाएगी.



वहीं मंगलवार को देश भर के बैंकों में कैश का अभाव देखने को मिला. लोगों को पैसे निकालने के लिए खासा परेशानियों का सामना करना पड़ां. कुछ जगहों पर बैंकों का शटर वक्त से पहले बंद कर दिया गया. बैंकों की ओर से ये तर्क दिया गया कि कैश नहीं. इसको लेकर लोगों का हंगामा भी देखने को मिला. वहीं सरकार का कहना है कि बैंकों में प्रयाप्त मात्रा में कैश दिया गया है. सैलरी के साथ पैंशनर्स की पेंशन भी खातों में आएगी. आरबीआई ने बैंकों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि पैंशनर्स और वरिष्ठ नागरिकों को कैश की दिक्कत नहीं आनी चाहिए.

fotorcreated

नोटबंदी के दौर में ऐसे करें प्लैन

  • सैलरी आने के बाद सबसे पहले अपने सभी जरूरी मासिक खर्चों की सूची बनाएं. इस सूची में उन सभी खर्चों को एक तरफ करें जहां आप कैश खर्च करने से बच सकते हैं. कैश खर्च करने वाली सूची को जितना छोटा करना संभव हैं उतना कर लें.
  • मकान का किराया, बिजली का बिल, सोसाइटी का मेंटेनेंस चार्ज, जैसे मोटे खर्च को चेक के जरिए करें. मकान मालिक चेक लेने से सहमत नहीं होता तो उसे पेटीएम या मोबाइल ट्रांसफर के जरिए भुगतान करें.
  • बच्चों के स्कूल की फीस, जिमनेजियम या क्लब की फीस, न्यूजपेपर और मैगजीन के बिल का भुगतान भी चेक के जरिए करें.
  • कार और मोटरसाइकिल की सर्विस, मोबाइल बिल, टीवी रीचार्ज और ब्रॉडबैंड कनेक्शन के बिल का भुगतान करने के लिए डेबिट कार्ड या किसी अन्य प्लास्टिक कार्ड की मदद से करें.
  • रसोई की जरूरत के लिए दाल, चावल, आटा और अन्य राशन की पूरी लिस्ट बनाकर एक बार में डेबिट कार्ड अथवा मोबाइल पेमेंट की मदद   से खरीदारी करें.
  • कार या स्कूटर में एक हफ्ते या उससे अधिक की जरूरत भर का पेट्रोल डलवाएं. इस भुगतान के लिए आप पेट्रोल पंप पर कैश खर्च करने से बच सकते हैं. आमतौर पर पेट्रोल पंप पर डेबिट कार्ड से पेमेंट की सुविधा रहती है.
  • दूध, दही, अंडा और ब्रेड जैसी जरूरत के लिए आपको प्रतिदन कैश की ही आवश्यकता पड़ेगी. लिहाजा इस खरीदारी के लिए कम से कम एक    हफ्ते का कैश निकालकर अलग रख लें.

अगर इस तरह से अपने सैलरी को प्लैन करेंगे तो आपको महीने भर दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा. और अगर थोड़ी परेशानी हुई भी तो आप उस परेशानी से बच सकते हैं जो आपको बिना प्लैन किए उठानी पड़ सकती थी.

यह भी पढ़ें-
मनोज तिवारी होंगे दिल्ली बीजेपी के नए अध्यक्ष!