हवाई यात्रियों के लिए खुशखबरी, किराये होंगे काफी कम!

प्रतीकात्मक तस्वीर

लाइव सिटीज डेस्क:  डायरेक्टर जेनरल आॅफ सिविल एविएशन (DGCA) ने अपने एक आॅर्डर में दिल्ली से उड़ान भरने वाली घरेलू एवं विदेशी दोनों ही उड़ानों के लिए एयरपोर्ट डेवलपमेंट फीस में तत्काल प्रभाव से भारी कटौती करने का एलान किया है. यात्रियों के लिए यह राहत भरी खबर है. एयरक्राफ्ट लैंडिंग एवं पार्किंग फीस के साथ हवाई टिकट की दर में कटौती यात्रियों एवं एयर लाइन्स दोनों के लिए खुशखबरी है.

सिविल एविएशन डायरोक्टरेट, जो एविएशन रेग्युलेटर  है, ने शुक्रवार को दिए गए एक आदेश में नई दिल्ली से आरंभ होने वाली घरेलू एवं विदेशी दोनों ही उड़ानों के लिए एयरपोर्ट डेवलमेंट फीस में तत्काल प्रभाव से कमी कर दी है. यात्रियों को इससे बड़ी राहत मिलेगी. यात्रियों को अब घरेलू उड़ानों के लिए यूजर्स डेवलमेंट फीस के मद में सिर्फ 10 रूपये ही चुकाना होगा. जबकि घरेलू उड़ानों जैसे कि नई दिल्ली—मुंबई उड़ान के लिए उन्हें इस मद में अब तक 578 रूपये की फीस चुकानी होती थी. जहां तक विदेशी उड़ान, जैसे कि नई दिल्ली— न्यूयार्क, की बात है तो प्रति टिकट यह 1,335 रूपये से घटकर 45 रूपये रह गया है. डायरेक्टर जेनरल आॅफ सिविल एविएशन (DGCA) ने आपने एक आदेश में इसका उल्लेख किया है.

प्रतीकात्मक तस्वीर

अभी तक प्रस्थान करने वाले और आगमन वाले दोनों ही यात्रियों को यूडीएफ का भुगतान करना होता था. अब सिर्फ उन्हें इसका भुगतान करना होगा जो नई दिल्ली से प्रस्थान करेंगे. वह भी पहले की तुलना में कम रकम. इससे एयरलाइन्स को लैंडिंग एवं पार्किंग फीस में काफी वचत होगी. यह वचत वर्तमान के तकरीबन आधी होगी.  अगले 15 दिनों के लिए दिल्ली—मुंबई की उड़ान फिलहाल 2,100 रूपये के बेस प्राइस पर टिकट की बिक्री कर रही है. अगर एयरलाइन्स उपभोक्ताओं को यह लाभ हस्तांतरित करे तो अब यह घटकर 1600 रूपये हो जाएगी.

तस्वीर प्रतीकात्मक है

एयर इंडिया, जेट एयरवेज, इंडिगो, विस्तारा, स्पाइस जेट और गो एयर की इस पर कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. नाम न जाहिर करने की शर्त पर एक एक्जक्यूटिव कहते हैं, ‘ यह बड़ी राहत की बात है. किराए में कमी आएगी.’  आपको बता दें कि किराये की नई दर का क्रियान्वयन वर्षों से लंबित है क्योंकि दिल्ली एयरपोर्ट आॅपरेटर प्रस्तावित किराया पुनरीक्षण के विरूद्ध अदालत चले गए थे.

एयर इंडिया ने इसे सु्प्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. जिस पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने 3 जुलाई को स्थगनादेश दे दिया था और संशोधित किराया लागू करने की अनुमति दे दी थी.  जीएमआर इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के नेतृत्व वाली दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (DIAL) ने शुक्रवार को बांबे स्टॉक एक्सचेंज से कहा है वह इस मामले को अपीलीय ट्रिब्यूनल ले जाएंगे. सुप्रीम कोर्ट ने अपीलीय ट्रिब्यूनल को दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (DIAL) द्वारा दायर टैरिफ अपील पर विचार करने का भी निर्देश दिया है.

ऐसा माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश के दो माह के अंदर कर लेने को कहा गया है.