बाबा रामदेव ने बताया कौन होगा पतंजलि का अगला उत्तराधिकारी

लाइव सिटीज डेस्क : हाल ही में एक सर्वे में पतंजलि का वित्त वर्ष 2017 में कुल टर्नओवर 10,561 करोड़ रुपए रहा. साथ ही बाबा रामदेव के सहयोगी और पतंजलि के सीईओ बालकृष्ण को देश के टॉप 10 अमीरों की सूची में शामिल कर दिया है. बहुत दिनों से यह चर्चा है कि योग गुरु और पतंजलि के संस्थापक बाबा रामदेव के अगले उत्तराधिकारी कौन होंगे. लेकिन अब बाबा ने अपने उत्‍तराधिकारी के लिए किसी तरह के संशय को समाप्‍त करते हुए कहा कि इस पद पर कोई सांसारिक या व्‍यापारी नहीं बल्‍कि 500 साधुओं की टीम उनके उत्‍तराधिकारी के तौर पर होंगे.

उन्होंने कहा- ‘मेरा उत्तराधिकारी कोई व्यापारी नहीं होगा और न ही कोई सांसारिक आदमी बल्कि वह एक 500 साधुओं की टीम होगी, जिसे मैंने प्रशिक्षित किया है. मैं कभी छोटा नहीं सोचता. मैं बड़ा सोचता हूं. मैं आने वाले 500 सालों में हमारे देश के बारे में सोचता हूं. मैं पतंजलि समूह के अगले 100 सालों के बारे में सोचता हूं. मैं अपने उत्तराधिकारी को अपने पीछे छोड़कर जाऊंगा.’

एक निजी टीवी चैनल से साक्षात्कार में रामदेव ने कहा, ‘कुरान में लिखा है कि गोमूत्र इलाज के लिए प्रयोग किया जा सकता है. कुछ लोग पतंजलि को निशाना बना रहे हैं कि यह एक हिंदू की कंपनी है.’ उन्होंने सवाल किया कि क्या कभी उन्होंने हमदर्द (हमीद बंधुओं द्वारा स्थापित) पर निशाना साधा है?

रामदेव ने कहा, ‘मेरा हमदर्द और हिमालय दवा कंपनी को पूरा समर्थन है. हिमालय समूह के फारूक भाई ने मुझे योगग्राम के लिए जमीन दान दी है. यदि कुछ लोग आरोप लगा रहे हैं तो वह सिर्फ नफरत की दीवार खड़ी कर रहे हैं.’ बाबा रामदेव ने कहा कि उन्होंने 10 हजार करोड़ के पतंजलि समूह के लिए उत्तराधिकारी की एक योजना तैयार कर ली है.

यह भी पढ़ें – पतंजलि के बालकृष्ण ने लगाई बहुत उंची छलांग, देश के टॉप 10 अमीरों में शामिल
PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN
मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी
RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू
चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)