CCTV कैमरे का बिजनेस है बहुत फायदे वाला, 50 हजार रुपए से महिने में कमा सकते हैं लाखों रुपए

लाइव सिटिज डेस्क : आजकल आंतरिक सुरक्षा और ऐसी कोई वारदात ना हो जाए इसके लिए लोग CCTV कैमरे लगवा रहे हैं. ऐसे में बिजनेस करने वालों के लिए ये बिजनेस बहुत ही अच्छा है जिससे आप महीने के लाखों कमा सकते हैं. 27 फीसदी ग्रोथ को देखते हुए CCTV कैमरे का बिजनेस बेहद आकर्षक है. खास बात यह है कि इसे महज 50,000 से 1 लाख रुपए तक के निवेश से शुरू कर आप लाखों की कमाई कर सकते हैं.

बस आपको कुछ बातों पर ध्यान देने की जरूरत है. पहला आपकी मार्केटिंग अच्छी हो और दूसरा आपके पास ज्यादा नहीं बस एक एम्पलॉई हो, जो इंस्‍टॉलेशन यानी इसे लगाने का काम कर ले.

अगर बिजनेस अच्छा चल जाए तो आप महीने में कई लाख भी कमा सकते हैं, क्योंकि बड़े से लेकर छोटे शहरों और बड़े से लेकर छोटे व्यवसायिक प्रतिष्ठानों सभी के लिए यह जरूरी होता जा रहा है. सीसीटीवी के इन्‍स्‍टॉलेशन से लेकर मेंटनेंस तक सभी काम से जुड़े शर्मा के अनुसार मेट्रो ही नहीं, दूसरे और तीसरे दर्जे के शहरों में भी लोग सुरक्षा के प्रति सजग हो रहे हैं, जिससे आने वाले दिनों में सीसीटीवी मार्केट की ग्रोथ और आकार में और इजाफा होगा. सीसीटीवी बाहरी ही नहीं, आंतरिक सुरक्षा यानी घर के अंदर की सुरक्षा के लिहाज से भी जरूरी है.

कैसे काम करता है सीसीटीवी कैमरा

यह एक क्‍लोज सर्किट सिस्‍टम है जिसमें सभी एलिमेंट्स सीधे जुड़े होते हैं. सीसीटीवी सिक्युरिटी कैमरे के द्वारा रिकॉर्ड किए गए पिक्चर या वीडियो को प्रसारित नहीं किया जाता, बल्कि इसको रिकॉर्डिंग सिस्टम की तरह यूज किया जाता है.

सीसीटीवी कैमरे के प्रकार

1. डोम कैमरा: डोम सीसीटीवी कैमरा आमतौर पर घरों, कैसीनो, रिटेल स्‍टोर और रेस्तरां के अंदर निगरानी के लिए इस्तेमाल किया जाता है. उनके डोम के आकार से बताना मुश्किल हो जाता है कि कैमरा किस दिशा में है. इस कैमरे को 1,500 से 2000 रुपए में ख़रीदा जा सकता है. पीटीजेड कैमरा: पैन-टिल्ट-जूम स्टाइल के कैमरे सर्विलांस के वक्त दाएं-बाएं घुमाए जा सकते हैं. इन्हें मनचाही चीजों या लक्ष्‍यों पर जूम भी किया जा सकता है. बेहद संवेदनशील जगहों- जैसे गोदाम या रक्षा प्रतिष्ठानों की निगरानी के लिए ये बेहतर होते हैं. इस कैमरे का दाम 30,000-35000 तक होता है.

2. डे/नाइट कैमरा: ये खास तरह के कैमरे दिन की अच्छी लाइट में तो कलर रेकॉर्डिंग करते हैं, लेकिन रात में ब्लैक एंड व्‍हाइट रिकॉर्डिंग ही कर पाते हैं. इस तरह के कैमरे ‘इंफ्रारेड कट फिल्टर’ वाले होते हैं, जो कम रोशनी में भी हाई क्वालिटी ब्लैक एंड व्‍हाइट तस्वीर रिकॉर्ड करते हैं. आउटडोर और इंडोर में 24 घंटे निगरानी के लिए ये कैमरे बेहतर होते हैं. यह कैमरा आपको 2,500 से 3,500 में उपलब्ध हो सकता है. बुलेट कैमरा: बुलेट कैमरा को सभी तरह की स्थितियों- जैसे धूल, मिट्टी, बारिश, ओले जैसी स्थितियों में भी यूज किया जा सकता है. बुलेट कैमरा 1400 से 2400 रुपए के बीच खरीदा जा सकता है.

सीसीटीवी से होने वाली मुश्किलें सेफ्टी के लिए यूज किए जाने वाला ये हथियार कई बार मुसीबत भी बन जाते हैं, क्योंकि कई बार सीसीटीवी के जरिए किसी की अंतरंग तस्वीरें या प्राइवेट फुटेज रिकॉर्ड हो जाती हैं और उन्हें पब्लिक भी कर दिया जाता है. ऐसी स्थिति में आईटी एक्ट 2000 की सेक्शन 66ई के तहत केस बनता है. इसमें तीन साल की सजा और 2 लाख रुपए तक जुर्माना भी लिया जाता है. इसके अलावा अगर कोई किसी को धमकाने की सीसीटीवी फुटेज का प्रयोग करता है तो इसके लिए भी आईपीसी में केस बनता है. लेकिन कई बार सीसीटीवी फुटेज के जरिए कई दोषियों को पकड़ा गया है.

इन कंपनियों के आते हैं सीसीटीवी कैमरे

सीसीटीवी मार्केट में गैर आईपी सेगमेंट में सीपी प्लस, दहुआ और प्रामा हिक्विजन जैसे कंपनियों का हिस्सा है, जिसने 70% से अधिक बाजार पर अपना कब्ज़ा किया हुआ है. जबकि आईपी सेगेमेंट में एक्सिस कम्युनिकेशन, बॉश, पैनासोनिक, हनीवेल, जैसी कंपनी शामिल हैं.

About Ritesh Sharma 3172 Articles
मिलो कभी शाम की चाय पे...फिर कोई किस्से बुनेंगे... तुम खामोशी से कहना, हम चुपके से सुनेंगे...☕️

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*