11 लाख से ज्यादा PAN कार्ड निरस्त, कहीं आपका भी तो नहीं हो गया

लाइव सिटीज डेस्क : पैन कार्ड के डुप्लिकेशन पर रोक लगाने के लिए सरकार ने पैन और आधारकार्ड को जोड़ने का आदेश दिया था. सरकार के इस कदम को सफलता मिली है. अब तक 11.44 लाख से अधिक पैन कार्ड या तो बंद कर दिए गए हैं या निष्क्रिय कर दिए गए हैं.

वित्त राज्य मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने मंगलवार को संसद में बताया था कि ऐसा उन मामलों में किया गया है जहां किसी व्यक्ति को एक से अधिक पैन कार्ड आवंटित कर दिए गए थे. इसके बाद कई लोगों के मन में ऐसी आशंकाएं हैं कि कहीं उनका भी पैन कार्ड तो बंद नहीं कर दिया गया.

गंगवार ने राज्यसभा में लिखित जवाब में बताया था, 27 जुलाई तक 11,44,211 ऐसे पैन की पहचान की गई जिनमें पाया गया कि किसी एक ही व्यक्ति को एक से अधिक पैन जारी कर दिए गए हैं, अब उन्हें या तो बंद कर दिया गया या निष्क्रिय कर दिया गया. उन्होंने कहा, पैन आवंटन का नियम है प्रति व्यक्ति एक पैन. वहीं, गंगवार ने यह भी बताया कि 27 जुलाई तक 1,566 फर्जी पैन की पहचान की गई.

ऐसे जानें आपका पैन कार्ड एक्टिव है या नहीं

सबसे पहले इनकम की वेबसाइट http://incometaxindiaefiling.gov.in/ पर लॉगिन कीजिए.  इसके बाद साइट पर KNOW YOUR PAN विकल्प दिखेगा. इस पर क्लिक करें. बता दें कि इस पर किसी भी प्रकार का लॉगिन करने की जरूरत नहीं होगी.

KNOW YOUR PAN पर क्लिक करने के बाद एक नई विंडो ओपन होगी. वहां एक फॉर्म मिलेगा. इस फॉर्म में अपना मिडल नेम, सरनेम और फर्स्ट नेम भरना होगा. ध्यान रहे यह पैन कार्ड में लिखे नाम जैसा ही हो. अगर मिडल नेम नहीं है तो इस कॉलम को खाली छोड़ दें.

पैन कार्ड में दी गई जन्म की तारीख डालें. साथ ही मोबाइल नंबर आदि डालकर सब्मिट पर क्लिक करें. इसके बाद मोबाइल नंबर पर एक कोड आएगा. अंत में उस कोड को डालकर सब्मिट करें.

यह भी पढ़ें – गांवों तक बैंकिंग सुविधाएं दे रहा RPMS, रोजगार के साथ कमाई का भी अवसर है...