मामला 200 के नये नोट का : एटीएम के भरोसे हैं तो दीवाली तक करें और इंतजार

लाइव सिटीज डेस्क : अगर अभी तक आपने 200 रुपये का नोट नहीं देखा है और एटीएम के इंतजार में बैठे हैं तो थोड़ा और इंतजार कर लें. एटीएम के भरोसे रहेंगे तो फिलहाल आपके हाथों में 200 के नये नोट आने से रहे. कम से माह भर तक तो इसका इंतजार करना ही पड़ेगा. दीवाली से पहले एटीएम से 200 रुपये के नये नोट निकलने की उम्मीद नहीं है.

हां, आप चाहें तो 200 रुपये के नये नोट के लिए बैंक के काउंटर पर जाएं अथवा बाजार में कटे-फटे नोट बदलने वाले से उसके निर्धारित कमीशन पर लें. सूत्रों की मानें तो कटे-फटे नोट के पास अभी भी 50 और 200 के नये नोट आसानी से मिल जाते हैं. कमीशन में थोड़ी गिरावट आ गयी है. अब वह 30 के बजाय 20 और 15 रुपये कमीशन लेता है. लेकिन आज भी यह यक्ष प्रश्न है कि एजेंट के पास 50 और 200 के नये नोटों की गद्दी कहां से आती है, जब यह बाजार के खास लोगों के पास अब तक नहीं पहुंचा.

सूत्रों की मानें तो 200 अथवा 50 के नये नोट अभी भी आम लोगों की पहुंच से दूर ही रहेंगे. खासकर उनके लिए जो एटीएम के भरोसे बैठे हैं. वैसे लोगों को दीवाली तक तो इंतजार करना ही पड़ेगा. दरअसल बैंक कर्मियों को अभी तक एटीएम के संबंध में कोई सूचना नहीं दी गयी है, जबकि आरबीआई से भी इसकी अनुमति जरूरी है. आरबीआई की एटीएम से संबंधित अनुमति अभी नहीं मिली है.

उधर जब आरबीआई से अनुमति मिल जायेगी तो एटीएम में इसका रीकैलिबरेशन किया जायेगा. अभी इसका भी प्रॉसेस शुरू नहीं हुआ है. बता दें कि जब 2000 रुपये का नया नोट आया था, तब एटीएम को रीकैलिबरेट किया गया था. ऐसे में 200 रुपये के नये नोटों को के लिए भी यह प्रक्रिया पूरी करनी होगी. आपको बता दें कि रीकैलिबरेशन ऐसा प्रॉसेस है, जिसमें नोट के आकार और मोटाई के आधार पर खांचे को सेट किया जाता है. जब 2000 का नोट आया था, तब करीब एक माह एटीएम कैलिबरेशन में लग गया था. इतना ही समय 200 के नये नोटों में भी लगने की संभावना है.

यह भी पढ़ें- Exclusive : 200 के नोट बिक रहे हैं यहां 250 में, बैंकों में लाइन लगने पर भी नहीं मिलता 
मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी
RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू
चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)