नोटबंदी इफेक्ट : यदि आपने बैंक में 2 लाख के पुराने नोट जमा कराएं हैं तो हो जाएं अलर्ट…

लाइव सिटीज डेस्क : नोटबंदी का भूत अब तक लोगों का पीछा नहीं छोड़ रहा है. बैन किये पुराने नोटों को बैंकों में जमा करने को लेकर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट काफी सजग हो गया है और अपनी कार्रवाई तेज कर दी है. यदि आपने नोटबंदी के दौरान 2 लाख या इससे अधिक के पुराने नोट जमा किये हैं तो अलर्ट हो जाएं. गलत जानकारी देनेवाले 5 लाख से अधिक लोगों की पहचान इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने अब तक कर ली है.

आइटी सूत्रों की मानें तो नोटबंदी के दौरान 2 लाख या इससे अधिक राशि बैंक खातों में जमा कराने वालों अलर्ट हो जाएं. उन्हें इस बार इनकम टैक्स रिटर्न भरना जरूरी है. आपकी दी गयी जानकारी से आपके स्रोत का इनकम टैक्स डिपार्टमेंट मिलान करेगा. विभाग के अनुसार स्वच्छ धन अभियान के दूसरे चरण में अब तक 5.56 लाख लोगों की पहचान की जा चुकी है. ऐसे चिह्नित लोगों को ऑनलाइन जवाब देना होगा. उन्हें बताना होगा कि इनकम का स्रोत क्या है.

दरअसल वित्तीय लेनदेन के स्टेटमेंट से मिली जानकारी के आधार पर स्वच्छ धन अभियान के दूसरे चरण में अब तक 5.56 लाख लोंगों की पहचान की गयी है. लेकिन असली समस्या यह है कि इन लोगों की प्रोफाइल नोटबंदी के दौरान जमा कराये गये रुपये से मेल नहीं खा रही है. बता दें कि स्वच्छ धन अभियान के पहले चरण में ई-वेरिफिकेशन के दौरान अपने सभी बैंक खातों की जानकारी नहीं देने वाले 1.04 लाख लोगों की पहचान की गयी थी.

बहरहाल स्वच्छ धन अभियान के दूसरे चरण में अब तक पहचान किये 5.56 लाख खाताधारकों को नोटिस भेजकर आॅनलाइन जवाब देने को कहा गया है. वहीं यह भी निर्देश दिया गया है कि नोटबंदी के दौरान बंद किये गये 500 और 1000 के नोटों को आप 2 लाख या इससे अधिक रकम जमा किये हैं तो इस बार अनिवार्य रूप से इनकम टैक्स रिटर्न भरें. गौरतलब है कि पिछले साल 8 नवंबर को 500 और 1000 के नोट बंद कर दिये गये थे और नये 500 और 2000 के नोट जारी किये गये थे.

इसे भी पढ़ें : अभी थमा नहीं है नोटबंदी का तूफान, जानिए क्या है नया IT का फरमान..! 
जदयू का राजद पर हमला, संपत्ति का खुलासा करें लालू प्रसाद